सबस खराब काज केनिहार तीनटा पदाधिकारीक सेवा होएत वापस

मधुबनी । मधुबनीक जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक कहला अछि जे अगिला एक मास क अंदर सबस खराब प्रदर्शन करै बला तीन प्रखंड विकास पदाधिकारी क सेवा ग्रामीण विकास विभाग क आपस क देल जायत ।

एहि स पूर्व जिला पदिधिकारी समाहरणालय स्थित सभागार मे विडियो कांफ्रेंसिंग क माध्यम से सबटा प्रखंड विकास पदाधिकारी संग मुख्यमंत्री 7 निश्चय योजना क प्रगति क समीक्षा कयलन्हि । प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रमीण आ इंदिरा आवास योजना क अपूर्ण आवास सबहक पंचायतवार पंजी तैयार करबाक आ सब अपूर्ण आवास कए एक मासक अंदर पूर्ण करेबाक निर्देश सब प्रखंड विकास पदाधिकारी क संग सभटा प्रभारी पदाधिकारी कए जिला पदाधिकारी दिस स देल गेल ।

प्रभारी पदाधिकारी सब कए अपन अपन प्रखंड मे लोहिया स्वच्छता विहार अभियान, सात योजना स संबंधित क्रियान्वयन आ आंगनबाड़ी केंद्र सबहक जाँचोपरांत समीक्षा प्रतिवेदन समर्पित करबा क निर्देश जिला पदाधिकारी दिस स देल गेल। ओ पदाधिकारी सब कए चेतौलैन जे समय सीमा क अंदर काज नहि कैला पर कारर्वाई कैल जाएत ।

प्रभारी पदाधिकारी सब कए हरेक बुध आ शुक्र कए क्षेत्र भ्रमण कए प्रखंड मे कार्यन्वित सब योजना आ विशेषत: 7 निश्चय योजना क जाँच, प्रगति क संक्षिप्त समीक्षा प्रतिवेदनक उक्त तिथि क अपराह्न मे विस्वान क माध्यम स आयोजित भी.सी. द्वारा अगिला दिन निश्चित रूपेँ उपलब्ध  करौताह ।

जिला पदाधिकारी जिला स्तरीय पदाधिकारी सबहक बिना हुनकर अनुमति क अनुमंडल, प्रखंड, अंचल पदाधिकारी सबहक जिला स्तरीय बैसक नहि बजेबाक निर्देश दैत कहलैन जे एहि स विकास कार्य बाधित होइत अछि । चूँकि कार्यालय सब मे भीसी कक्ष स्थापित आ कार्यरत अछि तें कार्य क प्रगति क समीक्षा एकरे द्वारा कैल जाय ।

जिला पदाधिकारी  बिना अनुमति क मुख्यालय से बाहर, पटना जेबा बला प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी, प्रखंड पदाधिकारी, अंचल अधिकारी, कार्यक्रम पदाधिकारी, मनरेगा, बालविकास परियोजना पदाधिकारी सब कए कहलाह जे ई हूनका सबहक स्वेच्छाचारिताक परिचायक छी तेँ बिना जिला पदाधिकारी क पूर्वानुमति लेने आ अनुमति भेटला बाद बिना  अनुमंडल पदाधिकारी सूचित केने मुख्यालय छोड़ब स्वेच्छाचारिता आ लापरवाही मानल जायत ।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here