सकरी कारखाना कए कबाड मे बेचबा पर लागल रोक

सावित्री कुमारी
sakriकामेश्वरनगर (दरभंगा)। सकरी चीनी मिल कए कबाड मे बेचबाक साजिश तत्काल विफल भ गेल। रैयाम चीनी मिल जेका सकरी कए सेहो कबाड मे बेचबाक कोशिश मिथिला स्टूडेंड यूनियन क कार्यकर्ताक सक्रियता स विफल भ गेल। बिहार सरकार एहि संबंध मे यथास्थिति बना रखबा लेल मधुबनी क जिलाधिकारी आ पुलिस अधीक्षक कए निर्देश देलक अछि।
जानकारी क अनुसार गत सप्ताह सकरी चीनी मिल स राति मे किछु ट्रक लोहा निकलबाक सूचना स्थानीय लोकक माध्यम स मिथिला स्टूडेंड यूनियन क कार्यकर्ता कए भेटल। खोजबिन शुरु भेल त पता चलल जे रैयाम चीनी मिल जेकां सकरी चीनी कारखाना कए सेहो कबाड मे बेचबाक प्रयास कैल जा रहल अछि। खुलबाक उम्मीद में बेचल गेल कारखाना कए लुटबाक खबरि पाबि मिथिला स्टूडेंड यूनियन क कार्यकर्ताक आक्रोश सडक स ल कए सरकारी कार्यालय तक देखबा लेल भेटल। आम लोकक बीच सेहो एहि बात क चर्च शुरु भेल जे कारखाना कए चलेबाक बदला मे बेचल जा रहल अछि। आम स खास तक एहि मामला क पडताल मे लागि गेल। एहि बीच, पटना में ईख विभाग मे जखन एहि विषय पर स्पष्टीकरण मांगल गेल त एकटा नव मामला सामने आयल। सकरी कारखाना क कबाड नुका कए बेचनिहार कारोबारी प्रदीप चौधरी दरअसल सरकार लग एहि कारखाना लेल निर्धारित राशि एखन धरि जमा नहि केलथि अछि। ओ बेर बेर सरकार स राशि जमा करबाक तिथि बढेबाक अनुरोध क रहल छथि। सरकार हुनका राशि जमा करबा लेल जे तारीख देने छल, श्री चौधरी ओहि स पूर्व कारखाना कए कबाड मे बेच भगबाक योजना बनेने छलाह। गौर करि जे रैयाम मिल संग सेहो यैह भेल अछि। निर्धारित राशि जमा करबा स पूर्व मिल कए कबाड मे बेच देल गेल।
मिथिला स्टूडेंड यूनियन दिस स जारी दस्तावेज क अनुसार ईख विभाग क आयुक्त सकरी कारखाना परिसर स कोनो प्रकार क कबाड बाहर ल जेबा पर रोक लगा देलथि अछि।  ईख आयुक्त गिरिजेश प्रसाद श्रीवस्तव क आदेश मे मेसर्स तिरहुत इंडस्ट्रीज लिमिटेड क प्रबंध निदेशक प्रदीप कुमार चौधरी कए कारखाना परिसर क कोनो सामान बेचबा स रोकि देल गेल अछि। एहि लेल स्थानीय प्रशासन कए कारखाना क सुरक्षा सुनिश्चित करबा लेल कहल गेल अछि।  ईख आयुक्त गिरिजेश प्रसाद श्रीवस्तव क कहब अछि जे मेसर्स तिरहुत इंडस्ट्रीज लिमिटेड क प्रबंध निदेशक प्रदीप कुमार चौधरी निविदा भेटलाक बाद निर्धारित राशि एखन धरि जमा नहि केलथि अछि। हुनका चार करोड छप्पन लाख पच्चीस हजार टका एखन आओर सरकार कए देबाक अछि। इ राशि जमा करबा लेल मेसर्स तिरहुत इंडस्ट्रीज लिमिटेड क प्रबंध निदेशक प्रदीप कुमार चौधरी कए सरकार 7 जून तक समय देने छल, मुदा ओ राशि जमा करबा क बदला मे सरकार स बैंक गारंटी बढ़ेबाक एक बेर फेर मांग केलथि अछि, जाहि पर फैसला एखन विचाराधीन अछि। राशि जमा नहि भेला पर हुनका लगातार एकरा जमा करबा लेल कहल जा रहल अछि। हुनका इ तक कहल गेल अछि जे अगर यथाशीघ्र राशि नहि जमा भेल त निविदा सेहो रद्द भ सकैत अछि। एकर बावजूद सरकार लग ओ एक टका जमा नहि केलथि अछि, दोसर दिस कारखाना क कबाड बेचबाक सूचना भेटल अछि। हुनकर कारखाना क कबाड बेचबाक प्रयास गंभीर मामला अछि। विभाग एकरा गंभीरता स ल रहल अछि।
उल्लेखनीय अछि जे मेसर्स तिरहुत इंडस्ट्रीज लिमिटेड दिल्ली क कंपनी अछि आ एकरा ल एकटा सुइया तक बनेबाक अनुभव नहि अछि। दरअसल एहि कंपनी कए जमीन पर कोनो वजूद नहि अछि। एकर प्रबंध निदेशक प्रदीप कुमार चौधरी भाजपाक पूर्व विधायक अशोक यादव आ बचौल स मदद स अजीत नाथ झाक संग मिल रैयाम आ सकरी सरकार स औने पौने दाम मे किनलथि। बाद मे अजीत नाथ झा कंपनी स अलग भ गेलाह। मिल खुलबाक सपना देखा चौधरी बैंक गारंटी क रकम स कहीं बेसी रकम रैयाम चीनी मिल क कबाड बेच निकाली चुकल छथि। सूत्र क कहब अछि जे प्रदीप कुमार चौधरीक अगिला योजना सकरी क कबाड बेच सरकार लग हाथ उठा देबाक छल। ओना प्रदीप कुमार चौधरी अपन कंपनी मेसर्स तिरहुत इंडस्ट्रीज लिमिटेड जदयू विधायक सुनील चौधरी क जिम्मा लगेबाक  योजना लगभग बना चुकल छथि। किछु कानूनी बाधा अछि जाहि स योजना सफल नहि भ सकल अछि। जानकारक कहब अछि जे सुनील चौधरी क हाथ गेला स सकरी कारखाना बचत, एकर उम्मीद कम। मुदा जेतबा दिन बचल रहि जाये काफी अछि। किया त जदयू विधायक सुनील चौधरी  एहि ठाम पैघ स्मार्ट स्मार्ट सिटी बनौताह, नहि की चीनी मिल खोलताह। एखन मे रैयाम आ सकरी दूटा स्मार्ट सिटी लेल हम सब तैयार रही।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments