50 स बेसी बेर रक्तदान क चुकला अछि प्रशांत, अभिजीत सेहो 28बेर क चुकल छथि महादान

बिहार रक्तदाता ग्रुप क कुल 165 सदस्य भेलाह सम्मानित
समदिया
मधुबनी । कहल जाइत छै रक्तदान महादान। दुनियाक सबस पैघ दान केनिहार लोकक रविदान मधुबनी मे सम्मान कैल गेल। जीवन मे एक बेर रक्तदान करबाक चाही मुदा बहुत लोक सेहो नहि करि पबैत अछि। एहन मे इ सुनब आ देखब अपना आप मे आश्चर्यजनक अछि जे प्रशांत राउत रक्तदानक गोल्डन जुबली(50बेर) मना चुकल छथि, जखनकि अभिजीत कुमार(28बेर) एवं धर्मेन्द्र पांडेय(25बेर)सिल्वर जुबली मना चुकल छथि। ओतहि  एबी नेगेटिव सन दुर्लभ ब्लड ग्रुप रखनिहार दरभंगा राज परिवारक सदस्य बाबू अजय धारी सिंह कई बेर मधुबनी स मुजफ्फपुर जा रक्तदान क कईटा जान बचा चुकलाह अछि। सम्मान समारोह मे इ सब आजुक आकर्षण केंद्र छलाह।
रक्तदाता ग्रुपक तेसर स्थापना स्थापना दिवस क अवसर पर मधुबनीक होटल वाटिका मे आयोजित  प्रदेश स्तरीय रक्तदाता सम्मान समारोह मे 2017-18 मे रक्तदाता ग्रुपक रक्तदानी कए सम्मानित कैल गेल। समारोह क उद्घाटन मुख्य अतिथि रामप्रीत पासवान, समीर महासेठ, सुमन महासेठ आ डीआरडीए क डायरेक्टर संयुक्त रूप स दीप प्रज्वलित क केलथि। कार्यक्रम कए संबोधित करैत मुख्य अतिथि रामप्रीत पासवान कहला जे रक्दान करबा स कोनो प्रकारक कमजोरी नहि होइत अछि। रक्दान क प्रति लोक मे बहुत भ्रम अछि जेकरा जागरुकता स दूर कैल जा सकैत अछि।
कार्यक्रम मे मधुबनी स राकेश रौशन, लोकेश ठाकुर, अशोक साह, चंदन साह, गरिमा बैरोलिया, चंद्रा राउत, रवि राज, दरभंगा स राजेश यादव (चुनमुन), दिलीप राय, खुशबू कुमारी, प्रीति कुमारी, गणेश महथा, प्रशांत राशि, मुजफ्फरपुर स राकेश गुप्ता, राजा साहेब, पवन प्रखर, पटना स रक्तवीर नीरज, रणवीर, अरुणेश, पूर्णिया स सुबोध कुमार, गंगा राय, महताब आलम, मुकेश कुमार, रणवीर रंजन, गोपालगंज स अनवर, संजय, शान्तनु , सीवान स प्रवीण, लालबाबू, सीतामढ़ी स नीरज, सहरसा स विष्णु सांडिल्य समेत रक्तदाता ग्रुप क कुल 165 सदस्य कए सम्मानित कैल गेल। गोपालगंज स डिस्ट्रिक्ट ब्लड डोनर टीम (ष्ठक्चष्ठञ्ज) क नन्हू जी प्रसाद, रेयाज अहमद, वीरेंद्र शाह, मासूम अली सब गोपालगंज स आबि कए रक्तदाता सम्मान लेलथि आ लोक कए रक्तदान करबा लेल प्रेरित किया।
एहि मे गजेन्द्र प्रसाद, डॉ0 विजय रमन, अजय प्रसाद, आदित्य सिंह, रवि राउत, सन्नी कुमार, आदि क अहम योगदान रहल। रक्तदाता ग्रुपक संस्थापक मुकेश पंजियार कार्यक्रम क संचालन केलथि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments