पटनाकेँ सेहो भेटल सी-प्लेनक सनेस

गँगा केर निर्वाध प्रवाह लेल गाद सँ मुक्त होयब आवश्यक : नीतीश
बराज केर निर्माण कतहु नहि होयत : गडकरी
रामबाबू 
पटना । राजधानीवासी आब यथाशीघ्र सी-प्लेनक सबारी कए सकैए। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी केर बीच गंगामे सी-प्लेन सेवा शुरू करय केर प्रस्ताव पर सहमति जतेलक। केन्द्रीय सड़क परिवहन आऔर राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरीकें बीच सोमदिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमारकें सँग करीब 6 घन्टा धरि भेल बैसारक उपरान्त संयुक्त संवाददाता सम्मेलनमे ई घोषणा कएलक। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गंगाक अविरलता और निर्मलता विद्यमान रहय ताहि लेल गादक समस्या सँ निदान पायब जरूरी बतेलक। सोमदिन केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरीके साथ बैसारमे नीतीश कहलनि कि आब  केंद्र अतेक पैघ पर काज कS रहलाह अछि तँ एकर इकोलॉजी आऔर इनवायरमेंट केर साइंटिफिक अध्ययन कराएब सेहो आवश्यक अछि।
गंगामे गाद एकटा गम्भीर समस्या बनि गेल अछि। फरक्का बराजक उपयोगिता आऔर बराजक ढाँचाक आकलन होयबाक चाहि। गंगाक निर्वाध प्रवाहक बिना निर्मलता सम्भव नहि अछि। गादक जमाब सँ कटाव बढ़ि गेल अछि। मुख्यमंत्री कहलनि जे अहि काजमे भूमि अधिग्रहण सँ लक कोनो तरहक जे विघ्न बाधा छल ताहिसँ निवृत भ तेजी सँ आगू काज भ रहल अछि। बैसारमे पथ निर्माण विभागक प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा बिहार केर एनएच आऔर भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण केर उपाध्यक्ष प्रवीर पाण्डेय जल मार्ग विकास परियोजना केर तहत बिहारक इन-लैंड वाटर वे केर प्रेजेंटेशन देलक। एनएचएआई सँ एनएच पर एम्बुलेंस आऔर क्रेनक सुविधाक लेल एमओयू हस्ताक्षर भेल। केन्द्रीय मंत्री गडकरी कहलनि कि गंगामे कतहु बराजक निर्माण नहि होयत। हल्दियासँ वाराणसी धरि गंगामे पर्याप्त पानी अछि। दिक्कति वाराणसीसँ इलाहाबादके बीच अछि जतय पानि कम अछि। नितिन गडकरी कहलनि कि गंगा रिवर फ्रंट परियोजना केर दोसर फेजक मंजूरी द देल गेल अछि। पटना सिटीक नौजर घाट सँ नूरपुर घाटक बीच स्थित 27 घाटक सौंदर्यीकरण कएल जाएत। छह किलोमीटर धरि लम्बाई केर योजना पर 218 करोड़ खर्च आओत।
अहि योजनाकें तहत घाट सभक सौंदर्यीकरण, वृक्षारोपण, लैंड स्केपिंग, आंतरिक वाटर चैनल पर पुल सभक निर्माण, फूड कियोस्क, चेंजिंग रूप, शौचालय, खेलक मैदान आऔर स्लुइस गेटक निर्माण सम्मिलित अछि। मंत्री कहलनि कि बिहारमे नमामि गंगे केर तहत 20 परियोजना सभ पर काज चलि रहल अछि। अहि परियोजना सभक क्षमता सँ 535 एमएलडी सीवरेजक ट्रीटमेंट कएल जाएत। अहि सँगे 1681 किलोमीटर केर सीवरेज नेटवर्क तैयार कएल जाएत। अहि योजना सभ पर कुल 4166 करोड़क खर्च आओत। जाहि योजना सभक काज शुरू भ चुकल अछि ओहिमे पटना केर पांच, बक्सर, मुंगेर, बेगूसराय आऔर हाजीपुर केर एक-एक योजना अछि। शेष योजना सभ एखन टेंडर केर  प्रक्रियामे अछि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here