पांचम बेर होएत आयोजित होएत सहरसा ग्रुप मिलन समारोह

सहरसा । कोशी क सबसे पैघ फेसबुक ग्रुप एहि साल 11 नवंबर कए अपन पांचम ग्रुप मिलन समारोह करताह । सहरसा ग्रुपक ई पैघ उपलब्‍धि‍ अछि जे आभाषी दुनिया स जुड़ल मित्र धरातल पर सभ गोटे स भेंट-घांट कए रहल छलाह । सोशल मीडिया कए दर‍किनार कए अपन जिनगी मे आगू बढ़ आब बडड कठिन अछि । ई सबहक जिनगी क एकटा अहम हिस्‍सा बनि गेल अछि । शायद यैह वजह छल जे कोसीक क्षेत्र मे जखन इंटरनेट दस्तक देलक त एहि क्षेत्र मे कैकटा गंभीर यूजर्स इंटरनेट कए अपन हथि‍यार जेंका इस्‍तेमाल केलक, आ कैकटा रचनात्‍मकता से एहि क्षेत्र कए बड्ड लाभ पहुँचेलक । सोशल मीडिया पर फेसबुक क आगमन भेल त कोसी क रचनात्मकता सेहो खुलि‍कए सोझा आबय लागल । फेसबुक यूजर्स सभ जखन महत्वपूर्ण जानकारी सभ साझा करब शुरू केलक त एना मे सहरसा नाम सॅ बनन ग्रुप कोसीक लोगक लेल एकटा नीक मंच बनि कए सोझा आएल । मंच सटीक भेटल त एकरा संचालित करनिहार कुमार रविशंकर आ आन सहयोगी सभ एकर मोडरेशन कार्य कए संतुलित राखलक । एहि प्रयास स सहरसा ग्रुप मे शेयर करय बला जानकारी क प्रति सदस्य क भरोसा बढ़ैत गेल आओर देखैत देखैत एहि ग्रुपक सदस्य क संख्यां 40,000 क पार चलि गेल, जे ई देखेबाक लेल काफी अछि जे सोशल मीडिया पर सक्रियता क मामले मे ‘हम केकरो स कम नहि‍.’ कोसी क इंटरनेट यूजर्स लेल गौरव बनल सहरसा ग्रुप लगातार पॉंचम साल सहरसा ग्रुप मिलन समारोह क तैयारी मे जुटल अछि ।

अपन सामाजिक सरोकार कए व्यक्त करबाक प्रतिबद्धता क कारण आय सहरसा ग्रुप फेसबूक स लकए कतिपय समानांतर मीडिया समाज मे सार्थक भूमिका निभेबा मे सफल रहल अछि । मुदा ओतय जतय तमाम कस्‍बाई प्रतिकूलता क संग-संग, साधन अओर सूचना क न्यूनता क बादो एकटा समूह अपन क्षेत्रक सरोकार लेल सोशल मीडिया पर संगठित होएत अछि आओर देखैते देखैत अपन एकटा विशाल स्वतंत्र वजूद तैयार करबा मे सफल भए जाएत अछि,  एकरा आश्चर्य नहि‍ त कि कहल जाए?

सहरसा ग्रुप मिलन समारोह क आयोजन फेसबुक क मित्रों स मेल-जोल क एकटा मंच अछि । एहि साल 11 नवंबर कए लगातार पांचम मिलन समारोह आयोजित होमय जा रहल अछि । ग्रुपक एडमिन टीम स भेटल जानकारी क अनुसार एहि साल कवि सम्मेलन, परिचर्चा, सांसकृतिक कार्यक्रम, सम्मान समारोह क अतिरिक्त स्वास्थय क्षेत्र स संबंधित आयोजन सेहो कैल जाएत । कार्यक्रम मे आम सहभागिता क लेल फेसबुक पर ईवेंट क्रिएट कैल गेल अछि । सहरसा ग्रुप क एडमिन टीम कार्यक्रम क लेल सभटा सदस्य से सहभागिता आओर सहयोग क अपील केने अछि । ग्रुप मे जुड़बाक लेल https://www.facebook.com/groups/saharsamitra/  पर क्लिक कए सकैत छी ।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments