विचार

मिथिलाक ग्राम-ज्ञान परंपरा

सविता झा खान आय हमसभ शिक्षा क संदर्भ मे जखन चिंतनशील होएत छी, त सबसे पैघ बिंदु शिक्षा आओर शैक्षणिक संस्थान क स्वायत्तता होएत अछि । शिक्षा क जिम्मेदारी आओर गुणवत्ता क नाम पर औपनिवेशिक काल...

तेलंगानाक हैदराबाद जेकां नहि भेल मिथिलाक दरभंगा क संरक्षण

रत्नेश्वर झा राजा निमि द्वारा सदानीरा गंडकी के पूर्व आर्यवर्तक जाहि भूभाग के यज्ञ स ठोस बना बसोवास के क्षेत्र बनल वेह भूमि हुनक मंथन से प्राप्त शरीर के प्राप्तिक परिणाम स मिथिला बनल। मिथियन्ते यह...

कियो नहि उठेलक मिथिलाक विकासक नैतिक दायित्व

27 मार्च 1556 मे सरकार ए तिरहुत क स्थापना क 461 वर्ष पूरा हेबाक अवसर पर कईटा उद्योगक निदेशक रहि चुकल दरभंगा राजक कुमार शुभेश्वर सिंहक इ आलेख इसमाद पर विशेष रूप स प्रस्तुत...

एखनो अछि मिथिलाक छाती पर गरल सुगौली कील क टीस

विकाश वत्सनाभ  एखनहुँ भूमंडलीकरणक एहि परिवेश मे अपन क्षेत्रीय अस्मिताक मादे हम सभ सचेष्ट छी। एहि ग्लोबल भूगोल मे अपन लोकल भूगोल तकबाक हमरा लोकनिक ई प्रवृत्ति सदिखन एहिना जागृत रहय एकर भगवत प्रार्थना करैत...

उम्मीद क दसम डेग

समदिया इसमाद अपन दसम सालक यात्रा शुरु क रहल अछि । ई यात्रा असगर इसमाद क नहि अपितु एहि यात्रा मे ओ सभ शामिल छथि‍ जे एहि स अपना कए जुड़ल महसूस करैत छथि‍,...

इत्र स बेसी सुगंध भेटल एहि सनेस मे

मो. साकेब विदेश मे नौकरी आ अपन शहर क प्रति लगाव एहन ले एहि साल दरभंगा एलहुं त अपन विधायक स भेंट करबाक इच्छा भेल। दरभंगा स लगातार चारिम बेर विधायक बनल संजय सरावगी क...

बिका गेलहू हम एक क्विंटल गहूम आ 2200 टका पर

दिनेेश मिश्र डलवा – नेपाल 21  अगस्त , 1963 जमालपुर – दरभंगा 5 अक्टूबर, 1968 भटनिया – सुपौल 14 अगस्त, 1971 बहुअरवा – सहरसाअगस्त 1980 (तारीख ताकय पड़त) हेमपुर – नवहट्टा, सहरसा , 5...
535फॉलोवरफॉलो करें
122सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें