मुख्य पृष्ठ संपादकीय

संपादकीय

esamaad maithili newspaper

ई अल्प विराम किया

एक माह क उपरांत समाद एक बेर फेर अहां सबहक बीच अछि। आखिर इ अल्प विरोम किया। एकर पाछु एहि अखबारक मूल चरित्र अछि। आइ समाद परिवार मे पुरूषक संख्या काफी अछि, मुदा मूल...

लालूक नाम पर बिहारक विरोध किया ममता दीदी

- 5000 करोड़ क योजना कए पीपीपी प्रोजेक्ट मे देलथि पटना। रेल मंत्री ममता बनर्जी एक कात महिला आरक्षण क मुद्दा पर लालू प्रसाद क संग संसद मे देखबा मे आबैत...
esamaad maithili newspaper

ममता जी पहिने सलीका सीखू, फेर सिखाउ

16 अप्रैल, 2010 अक्षय तृतीया क दिन कतेक गोटेक लेल क्षत-विक्षत हेबाक दिन भ गेल। एहि लोकक गलती मात्र एतबा छल जे इ भारत क आम जनता क ओहि वर्ग स अबैत छथि,...
esamaad maithili newspaper

जीडीपी क मामला मे बिहार बनल नंबर-1

कुमुद सिंह आखिरकार ओ दिन आबि गेल जेकर नौ करोड़ बिहारी बाट ताकि रहल छल। विकास क दौर मे बिहार गुजरात स तेज भगबा मे सफल रहल, ओना इ गति कायम रहलाक उपरांतो करीब ...
esamaad maithili newspaper

सूखा गेल श्रीश चौधरीक कलम

आशीष झा/ कुमुद सिंह श्रीश चौधरी मात्र एकटा व्यक्तिक नाम नहि अछि। इ एकटा जमात अछि, जे पिछला 15 साल स अपन असफलता कए समाज आ राज्य क माथ पर द कलम चलबैत रहल। ...
esamaad maithili newspaper

छोट राज्य क पैघ सोच या पैघ राज्यक छोट सोच

छह दशक तक विभिन्न कारण स देश मे भेल असंतुलित विकास आइ राज्यक विभाजन करबा लेल सरकार कए मजबूर क रहल अछि। मुदा जाहि प्रकार स मांग उठाउल जा रहल अछि आ सरकार कार्रवाई...

समृद्ध पंजाब लेल बदलू मानसिकता

गिरिजेश मजदूर क महज एक दिनक आक्रोश लुधियाना पर भारी पडि़ गेल। उद्यमी कए करोड़ क चूना लागि गेल। उद्योगपति कराह उठला। मुदा पेट मे भूख क आगि लेने मजदूर आत्मसम्मान आ हक क लड़ाई...
535फॉलोवरफॉलो करें
117सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें