39 साल बाद 10 नवंबर कए आउत ललित बाबू हत्याकांड पर फैसला

आजाद भारत मे भेल सबस लंबा सुनवाई, छल पहिल राजनीतिक हत्या ।

 नयी दि‍ल्ली । उन्तालिस साल पहिने भेल पूर्व केंद्रीय रेल मंत्रीनारायण मिश्र हत्याकांड मामला मे कड़कड़डूमा कोर्ट फैसला सुरक्ष‍ित राखि‍ लेलक अछि । जिला जज विनोद गोयल कहला, दूनू पक्ष कए अगर किछु कहबाक अछि त ओ हफ्ता क भीतर अपनअपन लिखि‍त दलील हुनका द सकैत छथि‍ । कोर्ट संभवत: 10 नवंबर कए फैसला सुना देत । 

ज्ञात होए जे दू जनवरी 1975 कए बिहार क समस्तीपुर रेलवे स्टेशन क 4 नंबर प्लेटफार्म पर आयोजित समारोह मे भेल बम ब्लास्ट मे पूर्व रेल मंत्री आ दरभंगा क तत्कालीन सांसद एल एन मिश्र गंभीर रूप स घायल भए गेल छलाह । अगिला दिन हुनकर मौत भ गेल । दू सौ स बेसी गवाही एहि मामला मे भ चूकल अछि । मुख्य आरोपी आनंदमार्गी म संतोषानंद अवधूत, सुदेवानंदा अवधूत, रंजन द्वि‍वेदी आ गोपालजी छथि‍ । आरोपी अपन बचाव मे 40 टा गवाह कए अदालत मे पेश केलथि‍ । एकर चार्जशीट सीबीआइ पटना मे एक नवंबर, 1977 कए दायर केने छल । सुप्रीम कोर्ट एहि मामला कए 1979 मे बिहार स दिल्ली क अदालत मे स्थानंतरित क देलक । आरोपी दर्ज एफआइआर कए रद्द करबाक मांग सुप्रीम कोर्ट स केने छलाह जेकरा कोर्ट 17 अगस्त 2012 कए खारिज कए देने छल । गौरतलब अछि जे सुप्रीम कोर्ट एहि मामला कए जल्द निपटारा करबाक लेल एकर रोज सुनवाई करबाक आदेश जारी केने छल । सितंबर 2012 मे एकर सुनवाई कड़कड़डूमा कोर्ट मे शुरु कैल गेल छल । 

इ-समाद, इपेपर, दरभंगा, बिहार, मिथिला, मिथिला समाचार, मिथिला समाद, मैथिली समाचार, bhagalpur, bihar news, darbhanga, latest bihar news, latest maithili news, latest mithila news, maithili news, maithili newspaper, mithila news, patna, saharsa

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments

2 टिप्पणी

Comments are closed.