22 जिलामे 13 तरहक फलकें उत्पादकता बढयबाक लेल योजना तैयार

रामबाबू
पटना । राज्यमे सीएम उद्यानिक उत्पाद विकास योजना शुरू होयत। 22 जिलामे 13 तरहक फलकें उत्पादकता बढयबाक लेल ई योजना तैयार कएल गेल अछि। फल उत्पादन केर संगहि प्रोसेसिंग आऔर बिक्री मे सेहो सरकार सहयोग करत। 50 हेक्टेयर केर क्लस्टर मे किसान सभक समूह उत्पादन सँ प्रोसेसिंग कS बिक्री तक केर जिम्मेबारी सम्हारत। किसान सभक समूहकें सरकार 75 सँ 90 प्रतिशत तक योजना राशिमे अनुदान प्रदान करता। विभाग केर प्रोजेक्ट योजना पर सीएम सचिवालय केर तरफ सँ सहमति आऔर कैबिनेट सँ स्वीकृतिक बाद अही सालसँ योजना शुरू करबाक लक्ष्य अछि। जाहि जिलामे जे फल बेसी होयत अछि, ओहि जिलाकेँ अहि योजनामे शामिल कएल गेल अछि। पांच बरिसकें लेल ई योजना होयत, फेर ओकर सफलता पर एकरा बढ़ाओल जाएत। अहि योजना सँ वनाच्छादनकें संगहि फल उत्पादन बढयबामे मदति करत। किसान सभक नगद फसलकें दाम सेहो बेसी भेटत। क्लस्टर केर होयत निबंधन सरकार किसान समूहकें प्रोसेसिंग मशीन सेहो उपलब्ध कराओत। बिक्रीकें लेल मजगुति सिस्टम बनाओल जाएत, जाहिसँ उत्पादित वस्तु सभक खपत बढ़ि सकत। कृषि विभाग केर तरफ सँ फल उत्पादक समूह सभक सभ आधारभूत संरचनाक हेतु संसाधन उपलब्ध कराओल् जाएत। क्लस्टर समूहक निबंधन होयत। अहिमे शामिल किसान सभक संस्था केर लाभमे सँ हिस्सेदारी भेटत। सरकार समूह द्वारा उत्पादित फल सभक अन्य प्रोडक्ट केर बिक्री सेहो कराओत। बिक्री केर बढ़ावा देबाक लेल अहि योजनामे अनुदान शामिल कएल गेल अछि। विभाग भागलपुर मे जर्दालु आमकें लेल क्लस्टर बनाओल जाएत। पटना मे मालदह आम आऔर पपीता केर क्लस्टर बनाओल जाएत। किशनगंज आऔर परोस कें जिलामे अनानास, मुजफ्फरपुर मे लीची आऔर वैशाली मे लताम खगड़िया मे केराक क्लस्टर बनाओल जाएत।
की लाभ होयत
संबंधित फल सभक उत्पादन बढ़त।
– प्रोसेसिंग सँ किसान सभकें लाभ बेसी भेटत।
– स्थानीय युवा सभकेँ रोजगार उपलब्ध हएत।
– बाजारकें सुविधा मे बढ़ोतरी होयत।
– किसान सभक राशि भेटय मे देरी नहि होयत।
– फल सभक बर्बादी रोकय मे मदति भेटत।
– राज्य केर अन्य लोक सभकेँ सेहो उचित मूल्य पर फल केर उपलब्धता बढ़त।
कोन जिलामे किएक भेटत अनुदान
जिला               फल
मुजफ्फरपुर        लीची
वैशाली             केला, अमरूद
दरभंगा             आम
भागलपुर          जर्दालु आम
कटिहार            केरा
पटना              मालदह आम
खगड़िया          केरा
जमुई              कटहर, बेर आऔर बेल
औरंगाबाद        आंवला
मधुबनी           आम
बेगूसराय          लताम
अरवल             लताम
सारण              आम
मुंगेर               आम
प. चंपारण         आम
बांका               आम, कटहर आऔर अनार
सुपौल              मखाना

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments