1600 करोड़ स चमकत शहर

पटना। बिहारक शहर सेहो आब देशक अन्य शहरक भांति चकाचक रहत। चालू वित्तीय वर्ष मे नगर विकास आ आवास विभाग एकरा लेल योजना मद मे 1600 करोड़ टका खर्च करबाक योजना बनेलक अछि। एहि राशि स जलापूर्ति आ जलनिकासी क व्यवस्था सेहो होएत। नगर विकास आ आवास विभाग द्वारा चालू वित्तीय वर्ष मे विभिन्न शहर क जलापूर्ति व्यवस्था ठीक करबा लेल 20 करोड़ आ नाला निर्माण, सीवरेज आ अन्य सैनिटेशन कार्य पर सेहो 20 करोड़ खर्च करबाक योजना बनेलक अछि। एकर तहत राजधानी पटना मे 38 टा नव पंप लगेबा लेल दू करोड़ टका बिहार राज्य जल पर्षद कए देल जा चुकल अछि। पटना नगर निगम क सब वार्ड मे चापाकल गाड़बाक योजना अछि। जलापूर्ति आ नाला निर्माण क संग नागरिक सुविधा बढ़ेबा पर करीब 25 करोड़ खर्च करबाक योजना अछि।    एकर संगहि नगर निकाय क तकनीकी आ प्रशासनिक भवन क निर्माण आ जीर्णोद्धार पर दू करोड़, मास्टर प्लान आ परियोजना प्रतिवेदन क निर्माण पर चारि करोड़, इ-गवर्नेस पर दू करोड़, जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी योजना पर नौ सौ करोड़  और आइएचएसडीपी पर 150 करोड़ खर्च करबाक योजना तैयार अछि। एकर संगहि विभिन्न शहर मे ठोस अपशिष्ट प्रबंधन पर छह करोड़ खर्च कैल जाएत, जेकरा स पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, गया, बिहारशरीफ, आरा आ दरभंगा मे कूड़ा निष्तारण क योजना क शुरुआत कैल जा रहल अछि। एहि योजना क लेल कई ठाम भूमि अधिग्रहण क प्रक्रिया सेहो शुरू कैल जा चुकल अछि। एहि बेर पथ आ पुल क निर्माण पर करीब 20 करोड़ खर्च करबाक योजना बनाउल गेल अछि। एकर संगहि आवास निर्माण क लेल भूमि अधिग्रहण पर दू करोड़ टका खर्च करबाक योजना अछि। सवाल उठैत अछि जे इ विभाग नीतीश सरकार मे सबस बेसी घोषणा करबा लेल ख्यातिप्राप्त अछि। पिछला कईटा घोषणा त मुंह तक सीमित रहल, कागजो तक नहि पहुंचल, जमीनक त गप छोड़ू। नीतीश सरकारक पहिल नगर विकास मंत्री त घोषणा क रिकार्ड बना चुकल छथि। दरभंगा मे बाढि़क बाद तत्कालीन नगरविकास मंत्री कहने छलाह जे जल निकासी लेल पंप हाउस क निर्माण होएत। एकर बाद फेर एहि दिस किछु नहि भेल जखन कि एहि घोषणाक बाद पिछला चारि साल स दरभंगा ओहिना दहा रहल अछि। पटना लेल कैल गेल अधिकतर घोषणा पूरा नहि भ सकल अछि। नीतीश सरकारक सबस खराब एहि विभाग मे एखन धरि कईटा मंत्री भ चुकला अछि। देखबाक अछि वर्तमान नगर विकास मंत्री सह वित्तमंत्री सह उपमुख्यमंत्री योजना कए केतबा जमीन पर उतारथि छथि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments