सीतामढी उपेक्षित, मुदा बिहार तोडलक रिकार्ड

पटना । वर्ष 2012 मे बिहार मे आयल रिकार्ड दू करोड़ 25 लाख 44 हजार 32 देशी आ विदेशी पर्यटक मे स 10 फसदी पर्यटक कए पर्यटन मंत्री सुनल कुमार पिंटू अपन गृहनगर सीतामढी नहि आनि सकलाह। पर्यटन मंत्री क विधानसभा क्षेत्र आ सीताक जन्‍मस्‍थली रहिताक पर्यटन क मानचित्र पर सीतामढी क कोनो खास व्‍यस्‍तता नहि देखा सकल । एहि साल सेहो पर्यटक महज चारिटा शहर मे मुख्‍य रूप स देखल गेलाह। पर्यटन मंत्री सुनल कुमार पिंटू क प्राथमिकता एक बेर फेर वैशाली क उत्‍तर मे नहि देखबा लेल भेटल । मुदा श्री पिंटू क इ उपलब्धि जरूर रहल जे वर्ष 2012 मे घरेलू पर्यटक आ विदेशी पर्यटक क संख्या क्रमश: दो करोड़ 14 लाख 47 हजार 99 आओर 10 लाख 96 हजार 933 रहल। जखन कि 2011 मे इ संख्या क्रमश: एक करोड 83 लाख 97 हजार 490 आ 9 लाख 72 हजार 487 रहल छल। पर्यटन मंत्री क कहब अछि जे पर्यटक क संख्या मे आओर वृद्धि लेल होटल के निर्माण, सड़क क कात मे सुविधाक सृजन सहित आधारभूत संरचना क निर्माण क संगहि अन्य क्षेत्र मे काज जारी अछि। पर्यटन विभाग क निदेशक डीके श्रीवास्तव क कहब अछि जे पयर्टन क्षेत्र कए आओर बेसी विकसित कैल जा रहल अछि। श्रीवास्तव गछला जे हुनक पहिल प्राथमिकता रामायण सर्किट नहि अछि। ओ कहला जे पहिल चरण मे बुद्धिस्ट सर्किट कए विकसित कैल जाएत जाहि पर कुल 447 करोड़ टका खर्च होएत। एहि महात्वाकांक्षी योजना क प्रारांभिक रिपोर्ट तैयार कैल जा रहल अछि। ओ कहला जे द्वितीय चरण मे रामायण, सूफी आ जैन सर्किट कए विकिसित कैल जाएत जेकर कुल लागत 609 करोड़ टका आंकल गेल अछि ।

maithili news, mithila news, bihar news, latest bihar news, latest mithila news, latest maithili news, maithili newspaper, darbhanga, patna, दरभंगा, मिथिला, मिथिला समाचार, मैथिली समाचार, बिहार, मिथिला समाद, इ-समाद, इपेपर

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments