सात दिवसीय मलंगिया नाटय महोत्‍सव 24 दिसंबर स

नई दिल्‍ली। दिल्‍ली मे 24 स 30 दिसंबर, 2012 तक सात दिवसीय मलंगिया नाटय महोत्‍सव क आयोजन होएत। मैथिली रंगमंच मे एहि प्रकारक इ पहिल आयोजन थिक जे कि कोनो एकटा नाटककार महेंद्र मलंगिया क चर्चित सात टा नाटक देखबाक अवसर देत। एहि महोत्‍सवक आयोजन मैथिली लोक रंग (मैलोरंग) संस्‍था क रहल अछि। संस्‍थाक निदेशक प्रकाश झा क अनुसार नई दिल्‍ली क मंडी हाउस स्थित श्रीराम सेंटर मे प्रतिदिन सांझ 6.30 बजे स नाटक क आयोजन होएत। ओ कहला जे मलंगिया नाटय महोत्‍सव मे भारत आ नेपालक कुल सात टा नाटय संस्‍था भाग ल रहल अछि। इ सब संस्‍था नाटककार महेंद्र मलंगिया लिखित विभिन्‍न नाटकक मंचन करत। एहि महोत्‍सव मे पटनाक भंगिम, मधुबनीक लोकहित रंगपीठ, सहरसाक पंचकोसी, दिल्‍लीक मिथिलांगन, जनकपुर (नेपाल)क मिनाप, कोलकाताक मिथिला विकास परिषद आ दिल्‍ली क मैलोरंग रिपोर्टरी सेहो अपन प्रस्‍तुति देत। एहि महोत्‍सव लेल नाटककार महेंद्र मलंगिया क चर्चित सात टा नाटक क्रमश: काठक लोक, ओकरा आंगनक बरहमासा, गाम नै सुतैए, छुतहा घैल, पूस जाड की माघ जाड, जुआयल कनकनी आ ओरिजनल काम चयनित कैल गेल अछि।

maithili news, mithila news, bihar news, latest bihar news, latest mithila news, latest maithili news, maithili newspaper

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments

3 टिप्पणी

  1. नऽव पर नीक परम्परा ।
    भविष्य मे आनहु नाटककार लोकनि पर आधारित एहि तरहक आयोजन मैथिलीप्रेमी लोकनिकेँ देखब लए भेटत से आशा ।

  2. EE naatak dekhbak lel registration karbaba partai ya kono aur vyavastha chhai… kripya suchit kari…. Dhanyabad!!!!!

Comments are closed.