सरकार केलक देशरत्न क घोर उपेक्षा

नयी दिल्ली : की भारत सरकार कोनो खास नीतिक तहत पहिल राष्ट्रपति आ देशरत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद क उपेक्षा क रहल अछि। इ सवाल एकटा आंकड़ा देखलाक बाद सब क रहल अछि। नेहरू-गांधी परिवार सरकार लेल चहेतगर सब दिन रहल, मुदा आश्चर्यजनक रूप स ओहि शीर्ष दस महानतम नेता में देशरत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद क स्थान नहि अछि जेकरा स्मरण करबा लेल सरकार सब साल टका खर्च करैत अछि। इ तथ्य समाचार पत्र क विज्ञापन कहैत अछि किया त सरकार महानतम नेता क विज्ञापन पर एकटा पैघ राशि खर्च क देलक अछि। बीतल पांच साल मे, महानतम नेता क जन्मदिन आ पुण्यतिथि स संबंधित जेतबा विज्ञापन समाचार पत्र सब मे सरकार छपेलक अछि ओहि मे स एक तिहाई स बेसी खर्च केवल राजीव गांधी, इंदिरा गांधी आ जवाहरलाल नेहरू क विज्ञापन पर भेल अछि। एहि प्रकार स कुल विज्ञापन पर 142.3 करोड़ क खर्च आयल अछि आ एहि मे स 53.2 करोड़ क खर्च असगर एहि तीनटा महानतम नेता पर क देल गेल अछि। डायरेक्टरेट आॅफ एडवर्टाइजमेंट एंड विजुअल पब्लिसिटी (डीएवीपी) क अनुसार 2008-09 स 2012-13 क  बीच सरकार 15टा पूर्व नेता क जन्मतिथि आ पुण्यतिथि पर विज्ञापन छपेलक अछि। एहि मे, महात्मा गांधी क जन्मतिथि आ पुण्यतिथि पर 38.3 करोड़ (विज्ञापन लेल महात्मा गांधी क अकाउंट मे सबस बेसी राशि आवंटित होइत अछि)। महात्मा गांधी क बाद एहि सूची मे राजीव गांधी, बीआर आम्बेडकर, इंदिरा गांधी आ जवाहरलाल नेहरू छथि। बीआर आम्बेडकर असगर एहन गैर-नेहरू-गांधी परिवार स महानतम नेता छथि जिनका पर सरकार 10 करोड़ स बेसी धनराशि आवंटित करैत अछि। लिस्ट मे शीर्ष पांच नेता क नाम पर 100 करोड़ स बेसी राशि आवंटित होइत अछि जे कुल खर्च क दू-तिहाई स कनि बेसी अछि। एहि नेता सबहक अलावा सरकार सरदार पटेल क जन्मतिथि आ पुण्यतिथि पर 8.6 करोड़ खर्च केलक जखन कि बाबू जगजीवन राम कए स्मरण करबा मे 6.2 करोड़ खर्च भेल। पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री क विज्ञापन पर 3 करोड़ जखन कि मौलाना आजाद आ एस राधाकृष्णन पर 2 करोड़ आ 1.2 करोड़ क राशि खर्च कैल गेल। आम्बेडकर कए छोड़ि दी त इ साफ भ जाइत अछि सरकार गैर-कांग्रेसी नेता कए स्मरण करबा मे कम उदार अछि। कांग्रेसी नेता स अलग सूची मे नेताजी सुभाष चंद्र बोस, भगत सिंह, राज गुरु आ सुखदेव सेहो छथि। सूची मे केवल एकटा गैर-राजनीतिक शख्सियत स्वामी विवेकानंद छथि। संभवत: हुनकर 150म वर्ष क कारण नाम आयल अछि। भगत सिंह, राज गुरु आ सुखदेव क शहादत कए स्मरण करबा मे 9.7 करोड़ क राशि खर्च भेल अछि जखन कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस आ स्वामी विवेकानंद पर 50 लाख आ 90 लाख खर्च कैल गेल अछि।

इ-समाद, इपेपर, दरभंगा, बिहार, मिथिला, मिथिला समाचार, मिथिला समाद, मैथिली समाचार, bhagalpur, bihar news, darbhanga, Hawai seva, latest bihar news, latest maithili news, latest mithila news, maithili news, maithili newspaper, mithila news, patna, saharsa

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments