संगीत त हमर रोम रोम मे अछि : प्रियंका

 

प्रियंका मल्लिक एकटा एहन नाम अछि जेकरा कोनो परिचय क जरूरत नहि अछि। 250 साल पुरान उत्तर बिहार क संगीत घराना मे प्रियंका पहिल महिला गायिका हेबाक गौरब हासिल केने छथि। दरभंगा घराना क एहि पहिल गायिका क पहिल प्रस्तुति महज सात साल क उम्र मे भेल अछि। शास्‍त्रीय गायकी क क्षेत्र मे दरभंगा घराना कए एकटा नव शिखर पर ल जेबा मे लागल पंडित रामचतुर मल्लिक क एहि परपोती कए राष्ट्रपति पुरस्‍कार सहित कई टा पुरस्‍कार भेट चुकल अछि। देश विदेश मे अपन गायन क छाप छोड़निहारि दरभंगा घराना क एहि अनमोल रत्न स समदिया सुनील कुमार झा आ नीलू कुमारी लंबा चर्च केलथि। प्रस्‍तुत अछि ओकर किछु अंश:-

 

प्रश्न – नमस्कार
प्रियंका : नमस्कार

प्रश्न – अहां विश्वप्रसिद्ध दरभंगा घराना स संबंध रखैत छी, एहन महसूस होइत अछि?
प्रियंका : सचमुच मे बहुत गौरवान्वित महसूस करैत छी आ संगहि गर्व सेहो होइत अछि जे हम अपन पुस्तैनी कला कए सहेजबा क काज कए रहल छी।

प्रश्न – सात साल क उम्र स संगीत अजूबा अछि या सच।
प्रियंका : हँसैत…छी त सच, एहि मे अजूबा वाला कोनो गप नहि अछि, जन्म स हम संगीत क बीच रहलहुं, संगीत त हमर रोम रोम मे
बसल अछि, एहि मे एतबा हैरानी वाला गप नहि। सच पूछू त हमरा कोनो झिझक महसूस नहि भेल छल ओहि समय मंच पर।

प्रश्‍न : अपन सबस पहिल पर्फोरमेंस क संबंध मे कनि बताउ।
प्रियंका : जेना अहां कए पहिने बता चुकल छी जे महज सात साल क उम्र मे हम इलाहबाद मे बरीन दास संगीत महोत्सव मे अपन पहिल प्रस्‍तुति दर्शक क सामने आओर एतबा पैघ मंच पर देने रही, ओना ओहि स पहिने स्‍कूल स्‍तर पर हमर प्रस्‍तुति होइत छल।

प्रश्‍न : अहांक संगीत शिक्षा कोना की
प्रियंका : संगीत त हमर संस्कार मे अछि, बचपन स घर मे संगीत सुनैत एलहुं अछि। संगीत त जेना हमर घरक कण-कण मे बसल अछि। ओना संगीत क प्राथमिक शिक्षा हम अपन दादाजी आओर ध्रुपद उस्ताद पंडित विधुर मल्लिक आ अपन पिता पंडित प्रेम कुमार मल्लिक स लेने छी।

प्रश्‍न : इ त अहांक पारिवारिक परंपरा भेल, की अहां संगीत क विधिवत शिक्षा सेहो लेने छी, हमर कहबाक मतलब पढाई स अछि।
प्रियंका : केहन गप करैत छी अहां संगीत क असली ज्ञान त गुरु सब स लेल जाइत अछि आओर ओ हम एखनो ल रहल छी, मुदा कहांक जानकारी लेल हम प्रयाग संगीत समिति स संगीत मे संगीत प्रभाकर (बेचलर ऑफ़ म्यूजिक) आओर संगीत प्रवीण ( मास्टर ऑफ़ म्यूजिक) केने छी। दूनू मे राष्ट्रीय स्तर पर मेरिट मे प्रथम स्थान आयल छल। एकरा लेल हमरा श्री जयंत कस्तौर जे संगीत नाटक अकादमी, नई दिल्ली क सचिव छलाह से स्वर्ण पदक देने छलाह। एकर संगहि हमरा इलाहाबाद विश्वविद्यालय स मास्टर ऑफ़ संगीत (MA) क लेल जाहि मे हम प्रथम स्थान प्राप्त केने रही
गोल्ड मैडल भेटल अछि।

प्रश्न – सुनल अछि जे अहां कए राष्ट्रपति पुरस्‍कार सेहो भेटल अछि।
प्रियंका : जी, इ अवार्ड हमरा आल इंडिया रेडियो म्यूजिक कॉम्पिटीशन, जेकि हिन्दुस्तानी संगीत क लेल छल मे प्रदान कैल गेल छल।

प्रश्न – आर कौन कौन पुरस्कार अहांक झोली मे अछि।
प्रियंका : राष्ट्रपति पुरस्कार क अलावा हमरा प्रयाग संगीत समिति नेशनल ओपन म्यूजिक कॉम्पिटीशन, जेकि इलाहाबाद मे 2006 मे भेल छल, क लेल स्वर्ण पदक भेटल छल। एकर अलावा हमरा उत्तर प्रदेश सरकार आ भारत सरकार क संस्कृति मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय क्षत्रिवृति सेहो भेट चुकल अछि। हमरा मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र (NCZCC) द्वारा प्रतिभा उत्सव 2002 क दौरान युवा होनहार संगीतकार क पुरस्‍कार भेटल अछि। संगीत
नाटक अकादमी उत्तर प्रदेश स हिन्दुस्तानी गायन संगीत मे जूनियर आ सीनियर दूनू वर्ग मे प्रथम पुरस्‍कार प्राप्त भेल अछि।

प्रश्न – अपन गायन उपलब्धि क बारे मे बताउ, कतए कतए एखन धरि प्रस्‍तुति कैल अछि।
प्रियंका : एखन धरि देश विदेश मे बहुतो रास प्रस्‍तुति द चुकल छी। सबहक बारे मे कहब कठिन अछि, मुदा किछु प्रस्‍तुति यादगार अछि जाहि मे किछु क उल्‍लेख हम करए चाहब-
विदेश मे
1. वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल, स्टिमेन म्यूजिक फेस्टिवल- बसल 2005
(स्विट्जरलैंड),
2. इंडियन कौंसिल फॉर कल्चर रिलेशन फेस्टिवल- बर्लिन 2005 (जर्मनी)
3. RBB रेडियो कंसर्ट- बर्लिन 2005 (जर्मनी)
4. इंडियन म्यूजिक कंसर्ट- विंटरटूर 2005 (स्विट्जरलैंड)
5. इंटरनेशनल म्यूजिक फेस्टिवल-थियेटर दे ला विल्ले फेस्टिवल- पेरिस
2009 (फ्रांस)
6. TFF वर्ल्ड म्यूजिक फेस्टिवल- रुदोल्सतडट 2011 (जर्मनी)
7. इंडियन एम्बेसी कल्चरल म्यूजिक प्रोग्राम, बर्लिन 2011(जर्मनी)
8. इंटरनॅशनल योग फेस्टिवल, बर्लिन 2011 (जर्मनी)
9. युनिवर्सिटी ऑफ़ वेइमर ग्लोबल म्यूजिक फेस्टिवल, वेइमर (जर्मनी)

देश मे :
1. सप्तक म्यूजिक फेस्टिवल, अहमदाबाद
2. बरिन दास संगीत फेस्टिवल , इलाहाबाद
3. संकल्प म्यूजिक फेस्टिवल, भोपाल
4. मेक्स मुलर भवन कंसर्ट- न्यू देल्ही,
5. उत्तर भारतीय संगीत समारोह- भदोई
6. विन्ध महोत्सव- विन्ध्याचल
7. स्वामी हरिदास संगीत समारोह- मथुरा
8. NCZCC प्रतिभा उत्सव- इलाहाबाद
9. सुर सिंगार संगीत सम्मलेन- मुंबई
10. भातखंडे संगीत फेस्टिवल- लखनऊ
11. संगीत कला महोत्सव- भोपाल
12. लखनऊ महोत्सव- लखनऊ
13. आल इंडिया रेडियो म्यूजिक फेस्टिवल- कोलकाता

प्रश्न – सुनल अछि जे जर्मनी मे अहांक बहुत रास फैन छथि आ ओहि ठाम अहांक कईटस एल्बम सेहो रिलीज भ चुकल अछि।
प्रियंका : जी बिलकुल, मुदा हमर नहि हमर गायन आ संगीत क चाहनिहार बहुत छथि ओहि ठाम, जर्मनी मे हमर एल्बम सेहो रिलीज भ चुकल अछि जाहि मे स इन पेरिस ऑफ़ गोडेस, गोडेस डिवाइन इनर्जी, आओर कलर ऑफ़ इंडिया प्रसिद्ध अछि। एकटा एल्‍मब अन्य कलाकार क संग बेगम अख्तर सेहो रिलीज भेल अछि।

प्रश्न – गीत संगीत क अलाबा अहांक कोनो उपलब्धि।
प्रियंका : गीत संगीत त हमर जीवन छी, एकर अलावा हम की करि सकैत छी। ओना एखन हम अपन पापा आ गुरु क सानिध्य मे इलाहाबाद विश्वविद्यालय स पी.एच.डी. करि रहल छी।

प्रश्‍न : आखिर मे अहां इसमाद लेल अपन समय देलहुं ताहि लेल बहुत बहुत धन्यवाद।
प्रियंका : अहूं कए।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments

2 टिप्पणी

  1. ahaan ke geet sab jadi interenet par uplabdh aich download kara lel ta okar link ai tham post ka diya. Kripa hait.

Comments are closed.