लक्ष्य स बेसी रहल बिहार मे राजस्व वसूली

पटना : देश-दुनिया क बाजार मे मंदी क असर क बावजूद बिहार मे राजस्व वसूली क स्थिति ठीकठाक अछि। बल्कि सुधरि रहल अछि। राजस्व वसूली क हिसाब स राज्यक चारिटा विभाग लक्ष्य स आगू जा चुकल अछि। मुख्य सचिव एके सिन्हा एहि संबंध मे जानकारी दैत कहला जे वाणिज्य-कर लग एहि साल जुलाई मास तक 3033 करोड़ वसूली क लक्ष्य छल। जेकर विरुद्ध विभाग जुलाई तक 3140 करोड़ टका क वसूली क चुकल अछि। एहि साल वसूली क लक्ष्य कए 13643 करोड़ स बढ़ा कए 16275 करोड़ कैल जा रहल अछि। एहिना खान विभाग त जुलाई तक वसूली लक्ष्य क विरुद्ध 224 फीसद तक वसूली लेलक अछि। खान विभाग क एहि वर्ष 641 करोड़ राजस्व संग्रहण क लक्ष्य छल। जुलाई तक 80 करोड़ क लक्ष्य क विरुद्ध 179.83 करोड़ क संग्रहण कैल गेल अछि। निबंधन विभाग जुलाई तक 825 करोड़ क लक्ष्य क विरुद्ध 935 करोड़ क वसूली केलक अछि, जे लक्ष्य क 113 फीसदी अछि। एहन मे राजस्व वसूली क बेहतर स्थिति कए देखैत तीनटा विभाग कए 3 हजार करोड़ आओर वसूलबा क नव लक्ष्य सौंपल गेल अछि। मुख्य सचिव कहला जे वाणिज्य कर विभाग कए 2672 करोड़ आ निबंधन कए 272 करोड़ आ परिवहन विभाग कए 100 करोड़ आओर वसूलबाक टास्क सौंपल गेल अछि।
मुख्य सचिव राजस्व देनिहार चारिटा पैघ विभाग वाणिज्य-कर, निबंधन, उत्पाद एवं खान विभाग क अधिकारी संग कर वसूली पर मंथन केलथि। बैसार क बाद ओ कहला जे दू-तीन मास क भीतर सरकार सबटा चेक-पोस्ट पर धर्मकांटा लगा देत। एहि स ओवरलोडिंग रुकत। वाणिज्य-कर विभाग कए विशेष फायदा होएत। एकर असर राज्य सरकार क खजाना पर सेहो नीक पडत। ताहि लेल एहि साल निबंधन विभाग क वसूली क लक्ष्य 2628 करोड़ अछि। बेहतर संग्रहण आ संभावना कए देखैत एकर लक्ष्य बढ़ाकए 2900 करोड़ क देल गेल अछि। उत्पाद विभाग सेहो जुलाई मास तक 1029 करोड़ क लक्ष्य क विरुद्ध 864 करोड़ क वसूली क लेलक अछि। इ लक्ष्य क 84 फीसद अछि मुदा पिछला साल एहि अवधि मे वसूली क तुलना मे 40 फीसदी बेसी अछि। पिछला साल क तुलना मे एहि वित्तीय वर्ष मे लक्ष्य कए डेढ़ गुणा क देल गेल छल। परिवहन विभाग द्वारा एहि साल राजस्व वसूली क लक्ष्य 800 करोड़ अछि। जुलाई तक 244.60 करोड़ क लक्ष्य क विरुद्ध 271.56 करोड़ क वसूली केलक अछि जे लक्ष्य क 111 फीसद अछि। पिछला वर्ष क तुलना मे सेहो वसूली बेहतर अछि। परिवहन विभाग क वसूली क लक्ष्य बढ़ा कए 900 करोड़ क देल गेल अछि। इ-समाद, इपेपर, दरभंगा, बिहार, मिथिला, मिथिला समाचार, मिथिला समाद, मैथिली समाचार, bhagalpur, bihar news, darbhanga, Hawai seva, latest bihar news, latest maithili news, latest mithila news, maithili news, maithili newspaper, mithila news, patna, saharsa

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments