रेडियो स्टेशन शुरू भेल, टीवी क तैयारी

भागलपुर। बिहार कृषि विश्वविद्यालय क अधीनस्त कृषि विज्ञान केन्द्र, बाढ़ मे किसान क लेल कृषि आधारित रेडियो स्टेशन क शुरुआत करि देल गेल अछि। 48.50 लाख क लागत स तैयार रेडियो स्टेशन स किसान सब दिन सुबह-शाम एक-एक घंटा खेती-बारी स जुड़ल जानकारी प्राप्त करि सकताह। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय स रेडियो स्टेशन क लेल लाइसेंस भेट गेल अछि। रेडियो स्टेशन क लेल आधुनिक प्रसारण केन्द्र सेहो बनाउल जा रहल अछि। एकर अलावा सबौर मे सेहो 100 किलोमीटर प्रसारण क्षमता क रेडियो स्टेशन क प्रस्ताव अछि। एहि ठाम सेहो जल्द रेडियो स्टेशन चालू भ जाएत। रेडियो स्टेशन क बाद किसान क समस्या क जीवंत प्रसारण टीवी पर सेहो भ सकत। एकरा लेल कुलपति डॉ मेवालाल चौधरी क पहल रंग ल रहल अछि। हुनकर पहल पर कृषि मंत्रालय बिहार कृषि विश्वविद्यालय मे 4.50 करोड़ टका स स्थापित होइवाला टीवी सेंटर कए मंजूरी दैत राशि सेहो उपलब्ध करा देलक अछि। टीवी सेंटर मे किसानों क सुविधा क लेल आधुनिक सुविधा स लैस रिकार्डिग रूम आ स्टूडियो क स्थापना कैल जाएत। स्टूडियो मे सफल किसान क कहानी कए रिकार्ड करबाक अलावा टीवी सेंटर क कैमरा सीधा किसान क खेत पर जाकए हुनकर समस्या कए शूट करत। स्टूडियो मे बैसल वैज्ञानिक कैमरा क जरिए पौधा क बीमारी सहित किसान कए खेती-बारी मे आबैवाला समस्या क समाधान करताह। कुलपति कहला जे स्टूडियो मे एडिटिंग स लकए रिकार्डिग सहित अन्य सुविधा होएत। प्रथम चरण मे टीवी सेंटर स पांचटा कृषि विज्ञान केन्द्र कए जोडल जाएत। जतए किसान सेटेलाइट क जरिए अपन समस्याक निदान पाउताह। ओ कहला जे टीवी सेंटर क लेल अगर आओर राशि क जरूरत होएत त सेहो उपलब्ध कराउल जाएत।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments