योगक्रांति अग्रदूत क महाप्रयाण स सन्नाटा

मुंगेर। बीसवीं सदी मे योग ज्ञान क जड़ कए अभिसिंचित करि पुनस्र्थापित करै वाला परमहंस सत्यानंद सरस्वती क महाप्रयाण रिखिया स्थित आश्रम मे होबै पर देश-विदेश क संग मुंगेर मे सेहो शोक क गहरा लहर दौड़ गेल। देश मे योग, भक्ति आ अध्यात्म क ऋषि-परंपरा कए संजीवनी प्रदान करै वाला कईटा महामनीषी क बावजूद सत्यानंद सरस्वती क निधन स एहि क्षेत्र मे एकटा सन्नाटा फैल गेल अछि। गत वर्ष एहि ठाम भेल विष्णु पुराण कथा यज्ञ मे योग गुरु रामदेव बाबा सत्यानंद सरस्वती क भविष्यवाणी क सेहो जिक्र कएल गेल छल।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments