मुजफ्फरपुर मे बनत विद्युत शवदाह गृह

मुजफ्फरपुर। राजधानी पटना क तर्ज पर 2.54 करोड़ टका क लागत स पीएचईडी शहर मे विद्युत शवदाह गृह क निर्माण कराउत। एकरा विभागीय स्वीकृति भेट चुकल अछि, जबकि निधि भेटबाक बाकी अछि। संगे निर्माण काज वित्तीय वर्ष 2010-11 तक पूरा करबाक लक्ष्य रखल गेल अछि। एहि क लेल विभागीय अधिकारी खाका तैयार करबा मे जुट गेल छथि। जानकारी क मुताबिक एहि गृह मे शव क दाह-संस्कार क लेल दो बर्निंग प्लेटफॉर्म बनाउल जाइत। संगे ही शव ल कए अबनिहार क लेल टाइल्स आ मोजैक स निर्मित विश्राम शेड आ शौचालय क व्यवस्था होइत। एकरा अलावा हुनका अन्य जरूरी सुविधा सेहो उपलब्ध कराएल जाइत। नदी क किनारा ढलाई सोलिंग कएल जाइत। पर्यावरण क ध्यान मे रखैत ओहि ठाम फूल क बगिया होइत, जेहि मे रंग-बिरंगा फूल क अलावा छायादार पौधा लगबाक विभागीय योजना अछि।
दोसर ओ श्मशान घाट उन्नयन योजना क तहत सिकन्दरपुर श्मशान घाट क किए जाए वाला विकास नगर निगम क पेंच मे फंसि कए रहि गेल। एकर विकास काज 48 लाख क लागत स कएल जाइत। ओना एकर सब टा तैयारी लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग करि लेलक अछि, मुदा नगर निगम क तरफ स जमीन हस्तांतरित नहि भेला स मामला लटकल पड़ल अछि। कहल गेल जे सिकन्दरपुर श्मशान घाट कए ढाई-ढाई सौ फीट भूमि क लंबाई-चौड़ाई मे विकसित करबाक अछि। एकरा तहत शव क दाह संस्कार क लेल छह बर्निंग प्लेटफॉर्म बनाउल जाइत। संगे ही मृतक क परिजन क लेल एक रेस्ट शेड, चारू तरफ छह फीट पैघ चहारदीवारी, भीतर मे बागवानी आ एप्रोच रोड क निर्माण संग अन्य योजना अछि।
दोसर ओर, पीएचईडी क कार्यपालक अभियंता नागेश्वर शर्मा क अनुसार, मुजफ्फरपुर मे विद्युत शवदाह गृह क निर्माण क लेल भूमि क तलाश कएल जा रहल अछि। एकर नक्शा पटना स्थित विभागीय मुख्यालय मे बनाउल जा रहल अछि। सिकन्दरपुर श्मशान घाट क विकास क ल कए हुए वाला काज क लेल विभाग नगर निगम क एनओसी क लेल पत्र लिखलक अछि। चूंकि उक्त जमीन नगर निगम क अछि, जे विभाग क हस्तांतरित केने बिना काज शुरू नहि भ सकैत अछि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments