मार्च त शुरू भ जाइत जल विद्युत क नौ टा यूनिट मे उत्पादन

पटना । प्रदेश क किछु जिला मे अगिला मार्च स बिजली संकट कम हेबाक संभावना अछि। मार्च तक राज्य क लघु जल विद्युत क नौटा परियोजना स उत्पादन शुरू भ जाइत। एहि स उत्पादन शुरू भेला स औरंगाबाद, अरवल, रोहतास आ सुपौल मे लोक कए बिजली उपलब्ध भ सकत। औरंगाबाद क तेजपुरा मे 1500 किलोवाट, अरवल क बेलसार मे 1000, वलिदाद मे 700, अरवल मे 500 किलोवाट, रोहतास क अमेठी मे 500, रामपुर मे 250 , नटवार मे 250, पहरमा मे 1000 आ सुपौल क राजपुर मे 700 किलोवाट क्षमता क लघु जल विद्युत परियोजना स्थापित भ रहल अछि। ऊर्जा विभाग उक्त नौ परियोजना क अलावा छहटा आओर परियोजना क स्थापना क कार्य प्रारम्भ करबाक दावा केलक अछि। एकर तहत पश्चिम चम्पारण क धोबा मे 2000 ,कटन्या मे 2000, बरवल मे 1600, मथौली मे 800, औरंगाबाद क डेहरा मे 1000 आ सिपहा मे 1000 किलोवाट क्षमता क विद्युत परियोजना क कार्य प्रारम्भ भ गेल अछि। लघु जल विद्युत परियोजना स्थापित करबा मे निजी क्षेत्र क प्रयास सफल रहल अछि। कोसी क्षेत्र मे निजी निवेशक सुभाष काबिनी नौ स्थान पर परियोजना स्थापित करबा लेल संरचना तैयार करि लेलथि अछि। एकर तहत बथनाहा मे 4 मेगावाट क्षमता क 2 टा, अरारघाट मे 4 मेगावाट क्षमता क 3टा आ मलहनवा मे 3 मेगावाट क्षमता क 2टा यूनिट क स्थापना क कार्य प्रारम्भ अछि। ऊर्जा विभाग क अनुसार ताप विद्युत परियोजना कए कोल लिंकेज नहि भेटबा क स्थिति मे जल विद्युत परियोजना पर उम्मीद बंधल अछि। एकर तहत कोसी नदी पर 126 मेगावाट क्षमता क स्थापना क लेल फ्रांस क संस्था कए एएफडी स राशि उपलब्ध करेबा लेल राज्य सरकार अपन अनुशंसा केन्द्र कए पठेलक अछि। एकर विस्तृत परियोजना प्रतिवदेन केन्द्रीय एजेंसी वापकोस तैयार के लक अछि। कैमूर मे 1600 मेगावाट क्षमता क हथियादह -दुर्गावती पम्प स्टोरेज स्कीम क लेल जापान क तकनीकी आ वित्तीय संस्था रुचि देखेलक अछि। एकरा लेल सेहो केन्द्र क आर्थिक मामला क मंत्रालय क सहमति जरूरी अछि। इन्द्रपुरी मे 450 मेगावाट क्षमता क जल विद्युत परियोजना कए सेहो निजी क्षेत्र मे मूर्त रूप लेबा लेल बिहार राज्य जल विद्युत निगम आश्वस्त अछि। ऊर्जा विभाग निजी क्षेत्र मे परियोजना स्थापित करबाक जिम्मेवारी बीएचपीसी कए सौंपलक अछि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments