मसल पावर स बेसी मुश्किल अछि मनी पावर पर अंकुश: राव


पटना। चुनाव आयोग क पूर्व सलाहकार केजे राव कहन्ला अछि जे मनी पावर पर अंकुश आसान नहि अछि। अपराधी क त रिकार्ड रहैत अछि, मुदा केेकरा लग केेतबा धन अछि, इ पता लगेनाइ बहुत मुश्किल अछि। वर्ष 2005 क विषम परिस्थिति मे तमाम आशंका क बावजूद बिहार विधान सभा क चुनाव निष्पक्ष आ शांतिपूर्ण ढंग स करेबा मे सफलता पाबि कए आम लोकक नजरि मे हीरो बननिहार केजे राव रिटायरमेंट क बाद पूर्व चुनाव आयुक्त लिंगदोह क संस्था ‘फाउंडेशन फार एडवांस मैनेजमेंट आफ इलेक्शंस (फेम) स जुड़ल छथि। ओ आइ-काल्हि प्रदेश मे युवा कांग्रेस क चुनाव क तैयारी क जायजा लेबा लेल पटना मे छथि। कांग्रेस हुनका सब राज्य मे युवा कांग्रेस क चुनाव करेबाक जिम्मेदारी देने अछि। राव मानैत छथि जे कांग्रेस जे पहल केलक अछि ओ सब दल कए करबाक चाही। तखने देश मे मजबूत लीडरशिप उभरत।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments