भेटत लोकक स्नेह अछि पूरा विश्वास: आनंद देव


मुंबई । ककरो यदि बिना कोनो अभिनय अनुभव कए फिल्म मे काज करबाक मौका भेट जाए त एकरा की कहल जा सकैत अछि? शायद एकरे किस्मत या भाग्यवाला कहल जा सकैत अछि। बिहार क मधेपुरा क रहनिहार आनंद देव कहियो नहि सोचने छलाह जे ओ फिल्मी पर्दा पर जेताह। मॉडलिंग क दुनिया स अभिनय सिखलाक बाद फिल्मी पर्दा पर आयल देव क पिताजी सिंदरी फर्टिलाइजर मे छलाह। देवक जन्म सेहो सिंदरी मे भेल अछि।
हाल मे हुनकर अभिनय स सजल भोजपुरी फिल्म प्यार बिना चैन कहां रे रिलीज भेल अछि, जेकरा लोक सब खूब पसिन केलक अछि। एहि संबंध में देव क कहब अछि जे ओ एहि स बेहद खुश छथि आ ओ कहला जे आगू एहि स्नेह कए बचेबा लेल ओ एहि स नीक काज करैत रहताह। ओ कहला, एकटा नव कलाकार क रूप मे निश्चित तौर पर इ विश्वास नहि छल जे हमरा एतबा लोकक स्नेह भेटत, मुदा हम काज पूरा मन लगा कए केने रही। ओना हमर मानब अछि जे कोनो फिल्म क सफलता टीम वर्क पर निर्भर होइत अछि। फिल्म क हर पार्ट नीक होइत अछि, तखने लोक ओकरा पसीन करैत अछि, कहानी नीक छल, जे लोकक दिल मे उतरि गेल।
ओ कहला जे मॉडलिंग क दौरान एहि फिल्म क निर्माता अनंजय रघुराज हमरा देखलाह। ओकर बाद ओ हमरा फिल्म प्यार बिना चैन कहां रे क एकटा चरित्र अमर क रोल देलथि।
देव कहला जे हुनकर दू टा नव फिल्म क शूटिंग जल्द शुरू होएत। एकटा अछि राजकुमार-असलम खान क साइकिल वाला गुंडा आ दोसर आनंद सिंह क चंचली।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments