बुद्ध सर्किट पर भेल बिहार भूटान मे चर्चा

गया। भूटान क प्रधान मंत्री लिनपो जिग्में वाई थिनले आ बिहार क मुख्यमंत्री नीतीश कुमार क बीच भेल बैठक मे बुद्ध सर्किट सहित कई मुद्दा पर विस्तार स चर्चा भेल। बैठक क बाद थिरले कहला जे भारत आ भूटान क बीच पुरान आ बेहतर संबंध अछि। एकरा आओर विस्तार देबाक जरूरत अछि।
ओ कहला जे बिहार मे पर्यटनक अपार संभावना अछि आ भूटान एहि मे बिहार कए सहयोग करबा लेल तैयार अछि। ओ कहला जे बिहार क विकास क लेल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार क लग मे एकटा नीक योजना अछि। एहि योजना क क्रियान्वयन कैल जा रहल अछि, जाहि स बिहार क न सिर्फ आर्थिक विकास होएत, बल्कि देश विदेश स अबनिहार श्रद्धालु पर बिहार क सकारात्मक छवि तैयार होएत। बिहार क एहि योजना स, हम काफी प्रभावित छी। थिनले बौद्ध स्थल क विकास मे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार क व्यक्तिगत रूचि क सराहना केलथि।
ओ कहला जे बिहार मे भूटान स प्रत्येक वर्ष 50-60 हजार तीर्थयात्री अबैत छथि। भूटान क प्रधानमंत्री लिनपो जिग्मे वाई थिनले कहला जे भूटान सरकार भूटान-बोधगया क लेल जारी वायु सेवा क उड़ान मे वृद्धि करत आ भूटान-, बोधगया- बंगलुरु हवाई सेवा शीघ्र शुरू कैल जाएत।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा दोबारा बिहार एबाक क आमंत्रण कए स्वीकार करैत कहला जे भूटान भौतिकता कए मापदंड नहि मानैत अछि, बल्कि अपन संस्कृति कए बचबैत आगू बढैत अछि, आध्यात्मिकता क आधार पर विकास चाहैत अछि। एहि स न सिर्फ परिस्थिति सुरक्षित रहत, बल्कि पर्यावरण सेहो संतुलित रहत। एहि कारण स भूटान ग्लोबल वामिंर्ग स बचल अछि। ओ कहला जे न सिर्फ व्यक्तिगत बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर एहि सिद्धांत क क्रियान्वयन कैल गेल अछि। संगहि ओ उम्मीद जतेलाह जे भूटान क एहि विचार कए जल्द वैश्विक आधार भेटत।
एहि मौका पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहला जे भूटान एतबा बेसी विकास करि लेलक अछि जे सार्क देश मे सबस बेसी प्रति व्यक्ति आय भूटानक अछि। ओ कहला जे भूटान क सवांर्गीण विकास मे भारत क महत्वपूर्ण योगदान रहल अछि। ओ भूटान क सकल राष्ट्रीय उत्पादन क सराहना केलथि। संगहि, कुमार भूटान क प्रधानमंत्री कए महाबोधि सोसायटी ऑफ इंडिया क अध्यक्ष चुनल जेबा पर बधाई सेहो देलथि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments