आखिर पंजाब स बिहार पहुंचल ‘हीरो’

बिहटा मे उत्पादन संयंत्र क राखल गेल नींव
कंपनी क तेसर, जखनकि पंजाब स बाहर पहिल उत्पादन केन्द्र 
लगभग 50 करोड़ क होएत निवेश
दू स ढाई हजार लोक कए भेटत रोजगार
सालाना 10 लाख साइकिल उत्पादन क क्षमता 
7 एकड़ मे स्थापित होएत संयंत्र
पटना : बिहार क लोहा, बिहार क मजदूर आ बिहारक बाजार रहैत पंजाब स साइकिल आयात करबाक दुख खत्म भ गेल। बिहार मे बदलैत औद्योगिक माहौल कए देखैत देशक उद्योगपति आब बिहार मे अपन संयंत्र लगेबा लेल आगू आबि रहल छथि। एकर ताजा उदाहरण देश क सबस पैघ साइकिल निर्माता कंपनी हीरो साइकिल्स लिमिटेड क नवका संयंत्र अछि। शुक्रदिन पटना स 37 किलोमीटर दूर बिहटा क लॉजिस्टिक आ औद्योगिक पार्क मे कंपनी क नबका उत्पादन संयंत्र क आधारशिला राखल गेल। कंपनी क इ तेसर संयंत्र अछि, मुदा पंजाब स बाहर इ पहिल उत्पादन केन्द्र अछि। एहि केन्द्र स सालान 10 लाख इकाइ क उत्पादन क लक्ष्य अछि। राज्य सरकार क सहयोग आ बियाडा क पहल स कंपनी संयंत्र स्थापित करबा लेल लगभग 50 करोड़ निवेश क योजना अछि। एहि संयंत्र स वर्ष 2014 स उत्पादन शुरू भ जाएत। बिहटा क औद्योगिक पार्क मे 7 एकड़ भूमि मे पूरा संयंत्र स्थपित होएत। एकर स्थापना स करीब दू स ढाई हजार लोक कए रोजगार भेटत। एहि अवसर पर हीरो साइकिल्स क अध्यक्ष ओपी मुंजाल कहला जे हुनका खुशी अछि जे पंजाब स बाहर हुनकर संयंत्र बिहार मे खुलल अछि। ओ कहला जे इ हुनक उत्पादन उपस्थिति दर्ज करेबाक रणनीति क हिस्सा अछि। ओ बिहार मे अपार संभावना कए रेखांकित करैत कहला जे हुनकर लुधियाना संयंत्र मे 90 प्रतिशत कर्मचारी बिहार स छथि आ हुनकर लगन आ मेहनत से कंपनी आगू बढ़ि रहल अछि। ओ कहला जे बिहटा संयंत्र स कंपनीक उत्पादन क्षमता दस लाख तक पहुंच जाएत आ एहि क्षेत्र लेल साइकिल उत्पादन संभव भ सकत। कंपनी क सहायक अध्यक्ष आ मैनेजिंग डायरेक्टर पंकज मुंजाल कहला जे बिहटा संयंत्र आधुनिक शॉप फ्लोर,बेहतरीन उत्पादन सुविधा आ अत्याधुनिक तरीका स माल प्रबंधन स लैस होएत। बिहार मे इ अपन तरह क पहिल एहन संयंत्र होएत जाहि ठाम  पीयूएफ शेड होएत जे बाहरी तापमान स संयंत्र कए 10 डिग्री सेल्सियस कम राखत। एहि स कर्मचारी कए अनुकूल माहौल भेटत। ओ कहला जे एहि संयंत्र क स्थापना स पूर्वी भारत मे कंपनीक हिस्सेदारी बढत। शुरुआत मे केवल बिहार आ झारखंड मे साइकिल क पूर्ति कैल जाएत। बाद मे पूर्वी भारत क सबटा राज्य मे मांग क अनुरूप पूर्ति होएत। कलकत्ता पोर्ट नजदीक भेला स दक्षिण एशिया क देश मे निर्यात मे मदद भेटत। एकर अतिरिक्त नेपाल, तिब्बत आ भूटान मे सेहो निर्यात मे असानी होएत।
आधारशिला कार्यक्रम मे शामिल उद्योग मंत्री रेणु कुशवाहा कहलथि जे बिहार मे नहि त टर्बोपोर्ट अछि नहि सी-पोर्ट, राज्य क भौगोलिक बनावट सेहो उद्योग क अनुकूल नहि अछि। एकर बावजूद राज्य सरकार अपन दिस स उद्योग क स्थापना लेल बेहतर माहौल तैयार केलक अछि। हीरो साइकिल कए राज्य सरकार हर संभव मदद करत। ओ स्थानीय लोक स सेहो उद्योगपति कए मदद करबाक अपील केलथि। उद्योग विभाग क प्रधान सचिव नवीन वर्मा कहला जे बिहटा मे शीघ्र शुष्क बंदरगाह क निर्माण पूरा होएत आ केन्द्र सरकार द्वारा प्रस्तावित इंस्टर्रन रेल कॉरीडोर क निर्माण स कंपनी कए काफी सहयता भेटत। बियाडा क एमडी दीपक सिंह कहला जे हीरो साइकिल स राज्य कए बहुत उम्मीद अछि। परम्परा स हटिकए कंपनी कए जमीन उपलब्ध कराउल गेल अछि।

इ-समाद, इपेपर, दरभंगा, बिहार, मिथिला, मिथिला समाचार, मिथिला समाद, मैथिली समाचार, bhagalpur, bihar news, darbhanga, Hawai seva, latest bihar news, latest maithili news, latest mithila news, maithili news, maithili newspaper, mithila news, patna, saharsa

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments