बिहार पर मेहरबान मोंटेक

0
8

mon
पटना। बिहार कए विशेष राज्य नहि, विशेष सहायता क जरूरत अछि। देश क विकास क लेल बिहार क विकास आवश्यक अछि। प्रदेश क विकास स संबंधित इ निष्कर्ष योजना आयोग क उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया क छी। अपने पहिल दौरा पर पटना आएल अहलूवालिया बिहार पर काफी मेहरबान रहलथि। ओ कहला जे राज्य कए विशेष सहायता क दरकार एहि लेल अछि, किया कि इ विकास क पैमाने पर पिछड़ल राज्य (डेवलपमेंट डेफिसिट स्टेट) अछि। ताहि लेल ओ राष्ट्रीय सम विकास योजना क तहत सालाना भेटैयवाल एक हजार करोड़ क राशि कए दू हजार करोड़ करबा क सिफारिश पर अपन मुहर लगा देलथि। एतबे नहि ओ कांटी आ बरौनी थर्मल पावर स्टेशन क जीर्णोद्धार क रकम मे भेल वृद्धि क भरपाई करबाक गप सेहो मानि लेलथि।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आ राज्य सरकार क आला अफसर क संग बुधवार कए अहलूवालिया मुख्य सचिवालय मे राज्य योजना क विस्तृत समीक्षा केलथि। अड़चन आ जरूरत बूझलथि। सरकार क प्रयास कए सराहलथि। किछु सुझाव देलथि आ कहलथि जे विकास क गति बनल रहे एकरा लेल राज्य कए राज्य कए खास मदद भेटबाक चाही। प्रदेश किछु दीर्घकालीन समस्या स दू-चारि अछि, त दिक्कत केंद्रीय एजेंसी आ केंद्रीय योजना कए ल कए सेहो अछि। देखल जाए जे ओकरा कोना दूर कैल जा सकैत अछि। केंद्र सरकार कतय आ केना राज्य क मदद करि सकैत अछि। केन्द्रीय एजेंसी एहि ठाम केना काज तेज करि सकैत अछि।
योजना आयोग क उपाध्यक्ष क समक्ष जखन विशेष राज्य क मसला उठल, तखन ओ कहला जे मुख्यमंत्री एहि संबंध मे पत्र लिखने छलाह। कई दोसर राज्य सेहो कतार मे अछि। ओना त इ मुद्दा राष्ट्रीय विकास परिषद क अछि , लेकिन एहि स कोनो खास फायदा होइ वाला नहि अछि। बस किछु रियायत भेट सकैत अछि। समयक मांग अछि जे बिहार कए अतिरिक्त संसाधन मुहैया कराउल जाएं। कोसी क बाढ़ क सवाल आयल त योजना आयोग क उपाध्यक्ष समाधान क तौर पर दीर्घकालीन प्लानिंग क दरकार बता देलथि। कहजा जे इ एकटा पैघ समस्या अछि। राज्य क भूगोल एकर मूल मे अछि। बाढ़ स निजात पेबा लेल विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन (डीपीआर) बनेबाक जरूरत अछि। एकरा लेल काफी संसाधन चाही।

Please Enter Your Facebook App ID. Required for FB Comments. Click here for FB Comments Settings page