बिहार क विकास रोकनिहार मोदी प्रेमी!

कोनो आन शहर मे नहि आब पटना मे खुलत पशु एवं मत्स्य चिकित्सा विश्वविद्यालय

पटना । पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री गिरिराज सिंह क नजरि मे गुजरात लेल त बहुत किछु अछि मुदा गोपालगंज सन बिहार क शहर लेल हुनक नजरि मे कोनो भाव नहि। मोदी प्रेम हुनका लेल सबस पैघ भ गेल अछि। चाहे ओ नरेंद्र मोदी होइथि बा सुशील मोदी। गिरिराज हुनकर नीति कए आगू बढेÞबा लेल ककरो संग अन्याय क सकैत छथि। बिहार क हित स बेसी गुजरात क मोदी क चिंता करनिहार गिरिराज सिंह बिहार क सुशील मोदी क पटनियां नीति कए सेहो लागू करबा लेल आतुर भ गेलाह अछि। लखिसराय क रहनिहार गिरिराज सिंह ओना त चुनाव नहि लडैत छथि मुदा हुनका सेहो आब बिहार मे पैघ संस्थान लेल पटना स आगू कोनो शहर नहि देखा पडैत अछि। गिरिराज सिंह आब नीतीशक समग्र विकास क नीति क सेहो विरोध करबा लेल डेग बढा देलथि अछि। नीतीश क विरोध क चक्कर मे आइ गिरिराज केवल गुजरात लेल बिहार कए नजरअंदाज टा नहि क रहल छथि, बल्कि पटना क सामने ओ गोपालगंज सन बिहार क आन शहर कए उपेक्षित करब शुरू क देलथि अछि। ओ सुशील मोदी क सब किछु पटना मे बना देबाक नीति पर अमल करबा मे जुटि गेलाह अछि। एकर ताजा प्रमाण अछि बिहार मे प्रस्तावित पहिल पशु एवं मत्स्य चिकित्सा विश्वविद्यालय क स्थापना। गौशाला आ पोखरि स संपन्न मिथिला क्षेत्र लेल पशु एवं मत्स्य चिकित्सा विश्वविद्यालय क मांग होइत रहल अछि। एकर बावजूद पिछला मास बजट सत्र मे सरकार सदन मे घोषणा केलक जे राज्यक पहिल पशु एवं मत्स्य चिकित्सा विश्वविद्यालय गोपालगंज मे खोलल जाएत। गोपालगंज मे कोनो पैघ संस्थान क अभाव रहल अछि ताहि लेल एहि निर्णय क स्वागत कैल गेल। मुदा सब किछु पटना मे बना देबाक मोदीक नीति पर आगू बढैÞत पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री गिरिराज सिंह आब इ संस्थान सेहो पटना मे खोलबाक घोषणा क देलथि अछि। गिरिराज सिंह क एहि निर्णय पर एतबा कहल जा सकैत अछि जे शुक्र मनाउ जे ओ इ संस्थान गुजरात मे खोलबाक घोषणा नहि केलथि। बिहार क समग्र विकास क दावा केनिहार नीतीश सरकारक मंत्री गिरिराज सिंह अपन फैसला कए सही कहैत दावा करैत छथि जे पशु एवं मत्स्य विश्वविद्यालय क पटना मे स्थापना लेल अगिला मानसून सत्र मे विधेयक सेहो आनल जाएत। गिरिराज सिंह क लेल गोपालगंज या मधुबनी नरेंद्र मोदी जेकां अभिमान स जुडल मसला नहि अछि। एहि मामला मे ओ दोसर मोदी क संग छथि। मोदी क नीति रहल अछि जे किछु भ जाए राजधानी पटना मे सबटा पैघ संस्थान खुलबाक चाही। तमिलनाडु क तर्ज पर उच्चस्तरीय पशु एवं मत्स्य चिकित्सा विश्वविद्यालय क स्थापना क योजना बहुत पुरान अछि। मंत्री कहला जे वेटनरी कालेज, एलआरएस, सीमेन बैंक, कैट्ल ब्रीडिंग सेंटर, संजय गांधी डेयरी टेक्नोलॉजी आ अन्य रिसर्च सेंटर कए मिलाकए कुल डेढ़ सौ एकड़ भूमि क रकवा पटना मे उपलब्ध अछि। एहि दृष्टि स पशु एवं मत्स्य चिकित्सा विश्वविद्यालय क स्थापना पटना मे कैल जाएत आ सबटा संस्थान विश्वविद्यालय कैंपस मे राखल जाएत। फिलहाल विश्वविद्यालय क स्थापना लेल वेटनरी कॉलेज इलाका क डेमोग्राफी कराउल जा रहल अछि। विश्वविद्यालय क स्थापना लेल जमीन की जरूरत भेला पर राजधानी पटना लग जमीन ताकल जाएत आ ओकर अधिग्रहण क कार्रवाई कैल जाएत। श्री सिंह क अनुसार पशु पालन क प्रति किसान कए प्रोत्साहित करबा लेल पायलट प्रोजेक्ट क रूप मे राज्य क दसटा जिला नालंदा, भोजपुर, गया, सारण, वैशाली, समस्तीपुर, पटना, रोहतास, बेगूसराय आ मुजफ्फरपुर मे पशु बीमा योजना शुरू कैल गेल अछि। सरकार क कोशिश अगिला पांच साल मे एहि योजना कए सब जिला मे शुरू करबाक अछि।
इ-समाद, इपेपर, दरभंगा, बिहार, मिथिला, मिथिला समाचार, मिथिला समाद, मैथिली समाचार, bihar news, darbhanga, latest bihar news, latest maithili news, latest mithila news, maithili news, maithili newspaper, mithila news, patna, saharsa

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments

1 टिप्पणी

  1. Vikash…karne ke liye nitish jee ko…hamara samarthn h…lekin…jaha v desh dharm ki baat hogi…ye hme apne jaan se pyara h………jai bhawani…

Comments are closed.