बरसात स आब टूटत नहि, मजबूत होएत बिहारक सड़क

एहि तकनीक क सबस पैघ विशेषता इ अछि जे सड़क जेतबा बेसी पाइन मे डूबत ओ ओतबा बेसी मजबूत होएत। बाढ़ प्रभावित इलाका मे एखन हाट मिक्स प्लांट स बनल सड़क बाढ़ क कारण एक सीजन क अंदर टूटि जाइत अछि, जाहि स सब साल पांच सौ करोड़ टकाक नुकसान भ रहल अछि।
प्रत्यय अमृत, पथ निमार्ण विभागक प्रधान सचिव

पटना। पाइन आ अलकतराक पुरान झगड़ा खत्म हुए जा रहल अछि। आब पाइल पड़ला पर अलकतरा स बनल सड़क टूटत नहि बल्कि आओर मजबूत होएत। ब्राजील क इ टेक्नोलाजी बिहार लेल कोनो वरदान स कम नहि अछि। बाढ़ आ बरसात स सैंकड़ों किलोमीटर सड़क बहबाक समस्या स त्रस्त बिहार पथ निर्माण विभाग आब एहि टेक्नोलाजी कए अपना कए टिपटिप बरसैत पाइन मे सेहो सड़क निमार्ण करि सकत। ब्राजील क एहि टेक्नोलाजी कए बिहार अपनेबाक फैसला लेलक अछि। बिहार स पूर्व इ टेक्नोलाजी फ्लोरिडा, मियामी और इराक मे हिट भ चुकल अछि।
पथ निर्माण विभाग क एकटा पदाधिकारीक कहब अछि जे आम तौर पर जून स अक्टूबर तक बिहार मे सड़क क निर्माण नहि होइत अछि। वर्षा आ ओकर बाद क स्थिति एहन नहि रहैत अछि जे सड़क निर्माण क लेल अलकतरा क इस्तेमाल भ सके। जल जमाव क स्थिति एतबा विकट रहैत अछि जे मजबूरी मे कई ठाम पीसीसी सड़क पैघ स्तर पर बनाउल जा रहल अछि।
एहन मे पथ निमार्ण विभागक प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत प्रयोग क तौर पर ब्राजील क कोल्ड मिक्स टेक्नोलाजी कए इस्तेमाल मे अनबाक योजना पर काज करि रहल छथि। फिलहाल कोसी क बाढ़ प्रभावित इलाका मे एक-दू किमी सड़क एहि तकनीक स बनेबाक योजना अछि। एहि तकनीक कए सफलता भेटला पर बाढ़ प्रभावित इलाका मे हाट मिक्स प्लांट क छुंट्टी तय मानू। प्रत्यय अमृत क कहब अछि जे दरअसल कोल्ड मिक्स टेक्नोलाजी किछु एहि तरह क तकनीक अछि जे पाइन मे विशेष रूप स फिट रहैत अछि। भारतीय रोड कांग्रेस क आयोजन क समय संबंधित कंपनी अपन तकनीक कए पटना मे देखेने छल।
ओ कहलथि जे एहि तकनीक क सबस पैघ विशेषता इ अछि जे सड़क जेतबा बेसी पाइन मे डूबत ओ ओतबा बेसी मजबूत होएत। बाढ़ प्रभावित इलाका मे एखन हाट मिक्स प्लांट स बनल सड़क बाढ़ क कारण एक सीजन क अंदर टूटि जाइत अछि, जाहि स सब साल पांच सौ करोड़ टकाक नुकसान भ रहल अछि।
कोल्ड मिक्स टेक्नोलाजी स सड़क बनेबा लेल संबंधित इलाका मे कोनो तरह क प्लांट स्थापित करबाक जरूरत नहि होइत अछि। इ बैग मे अबैत अछि आ सीधा-सीधा रोड पर देल जाइत अछि। एहि कारण स कम खर्च पर बाढ़ ग्रस्त इलाका मे सड़क बनि सकत। एतबा नहि कोल्ड मिक्स टेक्नोलाजी स बनल सड़क क लेल कोनो विशेष किस्म क हेवी रोलर क सेहो जरूरत नहि पड़त। पाइन स भरल सड़क क मरम्मत सेहो आसानी स संभव भ सकत। वर्षा आ ठंडक समय जखन अलकतरा क इस्तेमाल बंद भ जाइत अछि तखन कोल्ड मिक्स तकनीक पूरा कारगर होएत।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments