बदलत 28टा शहर क रूप-रंग

पटना। नगर निगम वाला 11टा शहर सहित प्रदेश क 28टा शहर मे ढांचागत सुधार आ विकासोन्मुखी कार्यक्रम पर डिपार्टमेंट फार इंटरनेशनल डेवलपमेंट 425 करोड़ टका खर्च करत। ब्रिटेन क डीएफआईडी क पहल क तहत 28 शहरी निकाय मे ढांचागत सुधार, विकासोन्मुखी कार्यक्रम, गरीबी उन्मूलन, क्षमता विकास, होल्डिंग टैक्स क कम्प्यूटराइजेशन, दोहरा लेखा प्रणाली, जीआईएस मैपिंग आदि काज होएत। एहि पर निगरानी क लेल विकास आयुक्त क अध्यक्षता मे मानीटरिंग कमेटी रहत। जाहि मे वित्त, नगर विकास आ योजना विभाग क प्रधान सचिव रहताह। पटना, खगौल, दानापुर, फुलवारी, बिहारशरीफ, बेगूसराय, छपरा, सिवान, आरा, हाजीपुर, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, बेतिया, दरभंगा, गया, बोधगया, डेहरी, नवादा, भागलपुर, मुंगेर, जमालपुर, पूर्णिया, किशनगंज, कटिहार, सहरसा आदि शहर एहि स लाभान्वित होएत। प्रथम चरण मे एहि शहर क चयन कैल गेल अछि। योजना छह साल क लेल अछि।
राज्य मंत्रिपरिषद क बैठक मे योजना क क्रियान्वयन क प्रस्ताव कए मंजूरी द देल गेल। बैठक मे ओवर लोडेड ट्रक क अवैध परिचालन कए रोकबा लेल एकटा आईएएस आ एकटा आईपीएस अधिकारी क नेतृत्व मे परिवहन विभाग क अधीन उडऩदस्ता क गठन क प्रस्ताव कए सेहो हरी झंडी द देल गेल। पटना उच्च न्यायालय क अनुशंसा क आलोक मे 12टा अधिवक्ता कए अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश मे नियुक्त करबाक आ पीएचडी क उपाधि प्राप्त करनिहार कॉलेज शिक्षक कए दूटा अग्रिम वेतन वृद्धि देबाक सेहो निर्णय कैल गेल अछि।
एकर संगहि बैठक मे नाबार्ड ऋ ण परियोजना क तहत सुपौल पथ प्रमंडल क अधीन निर्मली स मधेपुर पथ वाया मरौना बलुआही क लेल 30.40 किलोमीटर लंबाई मे उन्नयन क लेल 40.74 करोड़ क योजना कए प्रशासनिक स्वीकृति प्रदान कैल गेल अछि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments