बंगाल प्रेम स बेसी बिहार विरोधी रहल बजट

नई दिल्ली । रेल मंत्री ममता बनर्जी द्वारा लोकसभा मे पेश रेल बजट मे बंगाल प्रेम स बेसी बिहार विरोध देखबा मे आयल। ओ बंगाल कए परियोजना देलथि, मुदा खासगप इ रहल जे ओ बिहारक लंबित परियोजना कए एक बेर फेर गतालखाता मे राखि देलथि अछि। एहन मे बिहारक सांसद कए तमसाएब उचित अछि। रेल बजट पेश करबाक दौरान ममता कए अपने देखाउल रास्ता आइ परेशान केलक। संसदक इतिहास मे ममता बनर्जी ओ पहिल सांसद छथि जे रेल बजटक दौरान बेल मे जा हंगामा केने रहथि। ओ समय मे रामविलास पासवान बजट पेश करि रहल छलाह। ओना आइ ममता क भाषणक बीच मे हंगामा करबा लेल ओ सदन मे नहि छथि, मुदा हुनकर अनुपस्थिति मे जनता दल यू क सांसद बिहार क उपेक्षा पर नाराजगी व्यक्त करैत ठार भेजाह। सासाराम स सांसद मीरा कुमार आसन स व्यवस्था देलथि जे बजटक दौरान एहन हंगामा उचित नहि, भ सकैत अछि ओ इ बिसरी गेल छथि जे इ परंपरा आर कियो नहि ममता दीदी क शुरू कैल छी। मुदा जनता दल यू क भूदेव चौधरी, राजीव रंजन सिंह लल्लन और पार्टी क कईटा अन्य सांसद ममता दीदी जेकां बेल मे नहि गेलथि, ओ अपन-अपन स्थान पर ठार भ बजट मे बिहार क अनदेखी करबाक आरोप लगेलथि।
जदयू सदस्य क टोकाटोकी क तृणमूल कांग्रेस सदस्य जखन विरोध केलक, त मामला नोंकझोंक तक आबि गेल। एहन मे जदयू सदस्य कए उत्तेजित होएब स्वभाविक छल।
एहि बीच, रेल मंत्री ममता बनर्जी सदन मे मौजूद पूर्व रेल मंत्री आओर राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद दिस हाथ देखा कहलथि जे लालू जी अहूं त बिहार लेल बहुत किछु देने छलहुं, तखन आइ इ विरोध किया भ रहल अछि। एहि पर लालू कहला जे हम बिहारक संग रेलक सेहो ध्यान रखने रही, रेलक सेहत बना देने रही मुदा अहां एक बेर फेर रेलवे कए आहि स्थान पर ल जा रहल छी जे उचित नहि। अहां स बिहार किछु नव नहि मांगी रहल अछि, हम सब त केवल पूरान परियोजना कए पूरा करबाक मांग कए रहल छी। एहि पर तमतमा रेल मंत्री अपन स्थान पर बैस गेलीह। जाहि पर मधेपुरा स सांसद शरद यादव कहला जे बिहार मे पूर्व घोषित रेल परियोजना क हालत बहुत खराब अछि आओर ओहि पर काज बड धीमा चलि रहल अछि। एहि पर लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार कहलथि जे बहसक दौरान इ गप करब, एखन ममता कए बजट पेश करए दियउन । एकर बाद ममता अपन भाषण शुरू केलथि।
सवाल उठैत अछि जे छिटपुर रूप मे किया, बिहारक हित लेल दलीय बाधा तोडि सब एक किया नहि भ रहल छथि। पासवान सदन मे नहि छथि, मुदा शाहनवाज कहलथि जे हुनका ममता स कोनो नाराजगी नहि छैन, किया कि भागलपुर पर किछु भेट गेल अछि। कीर्ति चुप छथि किया कि दरभंगा कए दूटा गाडी भेट गेल। मुदा लंबित परियोजना कोनो एकटा संसदीय इलाका स नहि जुडल अछि। पुल हुए या कारखाना एहि स पूरा बिहार कए फायदा होएत। मुदा इ चिंताक गप अछि जे रेल कारखाना लालू आ पुल नीतीशक परियोजना मानि बिहारक नेता राजनीति करि रहल छथि आ पहिने जेकां बिहारक एहि राजनीति क फायदा आन उठा रहल अछि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments

2 टिप्पणी

Comments are closed.