पेंशनर कए नीतीश क शानदार सनेस

photoजिनगी बढ़त त पेंशन बढ़त
80 स 85 वर्ष क उम्र मे -पेंशन राशि स
20 प्रतिशत अतिरिक्त पेंशन
85 स 90 भ गेला पर 30 प्रतिशत अतिरिक्त पेंशन
90 स 95 भेला पर 40 प्रतिशत अतिरिक्त पेंशन
95 स 100 क बीच पहुंचला पर 50 प्रतिशत अतिरिक्त पेंशन
100 या ओहि स बेसी भेला पर पेंशन राशि मे 100 फीसदी अतिरिक्त पेंशन

कहिया कतेक भेटत बकाया
2009-10 मे 15 प्रतिशत
2010-11 मे 40 प्रतिशत
2011-12 मे 45 प्रतिशत

2006 स महंगाई भत्ता सेहो जोडि़कए अलग स भेटत
पहली जुलाई स 06 जनवरी 07 तक 2 प्रतिशत
जनवरी 07 स 6 प्रतिशत
जुलाई 07 स 9 प्रतिशत
जनवरी 08 स 12 प्रतिशत
जुलाई 08 स 16 प्रतिशत
जनवरी 09 स 22 प्रतिशत

पटना। त्यौहार क एहि मौसम मे सरकार राज्य क 3.56 लाख पेंशनधारी पर सनेसक बौछार करि देलक अछि। रिटायर राज्यकर्मी कए फिटमेंट लाभ दैत हुनकर पेंशन मे चालीस फीसदी क इजाफा करि देल गेल अछि। एतबे नहि जेना-जेना रिटायर कर्मी क बैस बढ़त, तना-तना ओकर पेंशन मे अतिरिक्त राशि जुटैत जायत। सौ पहुंचला पर पेंशन दोगुना भ जाइत। रिटायर भ रहल कर्मी कए आब 3.50 लाख टका ग्रैच्यूटी क स्थान पर 10 लाख टका भेटत। छठम वेतन आयोग क अनुशंसा क आलोक मे राज्य कैबिनेट बुधदिन इ फैसला लेलक। पेंशन पुनरीक्षण वैचारिक तौर पर पहल जनवरी, 2006 स लागू होइत मुदा एकर वास्तविक लाभ एक अप्रैल, 2007 स भेटत। ओतहि अपुनरीक्षित वेतनमान पाबि रहल सरकारी कर्मी आ रिटायर कर्मी कए महंगाई भत्ता मे दस प्रतिशत बढ़ोतरी क प्रस्ताव कए सेहो कैबिनेट मंजूरी द देलथि। शेट्टी आयोग क अनुशंसा क आधार पर राज्य न्यायिक सेवा क अधिकारी कए तीन अग्रिम वेतन वृद्धि देबाक फैसला कैल गेल अछि। कैबिनेट सचिव गिरीश शंकर राज्य मंत्रिमंडल क फैसल क बारे मे जानकारी देलथि। पेंशनधारी क संबंध मे लेल गेल निर्णय क बारे मे शंकर कहलथि जे पुनरीक्षित पेंशन क राशि पेंशनधारी द्वारा सेवानिवृत्ति क समय प्राप्त वेतन क पुनरीक्षित वेतन बैंड क प्रारंभिक वेतन आ ग्रेड वेतन क योग क 50 प्रतिशत स कम नहि होयत। इ लाभ पारिवारिक पेंशन क तहत सेहो भेटत। पुनरीक्षित पेंशन या फेर पारिवारिक पेंशन क न्यूनतम राशि 3500 टका निर्धारित होयत। उम्र बढ़ला क संग-संग पेंशन क राशि बढ़बा क संबंध मे इ प्रावधान कैल गेल अछि जे 80 स 85 वर्ष क उम्र मे जखन पेंशनधारी पहुंच जाइत छथि त हुनका हुनकर पेंशन राशि स 20 प्रतिशत अतिरिक्त पेंशन भेटत, 85 स 90 भ गेला पर 30 प्रतिशत, 90 स 95 भेला पर 40 प्रतिशत, 95 स 100 क बीच पहुंचला पर 50 प्रतिशत आओर 100 या ओहिस बेसी भेला पर पेंशन राशि मे 100 फीसदी क इजाफा भ जायत। कैबिनेट सचिव कहला जे पेंशन क बकाया राशि क भुगतान स सरकार पर 1700 करोड़ टका क बोझ पड़त, जखन कि नियमित पेंशन भुगतान क लेल प्रति 1000 करोड़ टका अतिरिक्त खर्च करैय पड़त। साढ़े तीन लाख स बढि़ कए 10 लाख कैल गेल ग्रैच्यूटी क राशि अधिसूचना जारी हेबाक तिथि स प्रभावित मानल जाइत। यानी निकट भविष्य मे रिटायर करला पर सेहो सरकारी कर्मी कए एकर फायदा भेट सकत। बकाया पेंशन क भुगतान क संबंध मे इ प्रावधान कैल गेल अछि जे इ तीन किस्त मे रिटायर कर्मी कए भेटत। 2009-10 मे 15 प्रतिशत, 2010-11 मे 40 प्रतिशत आ 2011-12 मे बकाया क 45 फीसदी भुगतान होयत। एतबे नहि रिटायर कर्मी कए 2006 स महंगाई भत्ता सेहो जोडि़कए अलग स भेटत। एकरा लेलपहली जुलाई स 06 स जनवरी 07 तक 2 प्रतिशत, जनवरी 07 स 6 प्रतिशत, जुलाई 07 स 9 प्रतिशत, जनवरी 08 स 12 प्रतिशत, जुलाई 08 स 16 प्रतिशत आ जनवरी 09 स 22 प्रतिशत देय होइत। राज्य सरकार क ओहन कर्मी या रिटायर कर्मी जिनका एखन धरि अपुनरीक्षित वेतनमान भेट रन्हन्ल छैन, हुनका डीए मे 10 प्रतिशत इजाफा करबाक सेहो फैसला लेल गेल अछि। एहन मे हुनका जनवरी 2009 स 54 फीसदी क स्थान पर 64 फीसदी महंगाई भत्ता भेटत। अराजकीय माध्यमिक विद्यालय क शिक्षक आ शिक्षकेतर कर्मी क लेल सेहो सरकार नव सुविधा शुरू करबाकअपन मंजूरी प्रदान कैलक अछि। एखन धरि पीएफ क राशि बचत खाता मे जमा कैल जाइत छल। आब इ राशि कए पीपीएफ एकाउंट मे रखल जाइत, ताकि हुनका अधिक आर्थिक लाभ भेटनि। शेट्टी कमीशन क अनुशंसा क आधार पर राज्य न्यायिक सेवा क पदाधिकारी कए तीन अग्रिम वेतन वृद्धि देबाक फैसला सेहो लेल गेल अछि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments