दरभंगा जकसन पर कीर्तिक नौटंकी

दरभंगा। मंगलवार दिन जतए कर्मभूमि एक्सप्रेस क उद्घाटन लेल दरभंगा उत्साहित छल, ओतहि अपन सांसद कीर्ति आजाद क नौटंकी स परेशान भ गेल। दिल्ली कए बासडीह आ दरभंगा कए मौजे बुझनिहार सांसद कीर्ति आजाद दरभंगा कए बेइज्त करबाक कोनो मौका नहि छोडैत छथि। एहि बेर सेहो एकटा छोटसन गप लेल एहन रूसलाह जे पूरा कार्यक्रम क मजा किरकिरा भ गेल। दरअसल हुनकर आरोप छल जे हुनका रेलवे विधिवत सूचना नहि देलक आओर एकटा टीटी क हाथ स आमंत्रण पत्र देल गेल।
तमसेबाक कारण छल की नहि इ त जनता जनैत अछि, मुदा रेलवेक कहब अछि जे सांसदक अपमानक कोनो गप नहि अछि। डीआरएम सत्यप्रकाश त्रिवेदी कहला जे पर्यवेक्षक स्तर क मुख्य चल टिकट निरीक्षक (सीटीटीआई) क हाथ स सांसद कए आमंत्रण पठाउल जाइत रहल अछि। सोमदिन सेहो हुनकर सांसद स फोन पर गप भेल छलैन। एकटा अन्य वरिष्ठ अधिकारी कहला जे सांसद क दिल्ली आवासक पता पर सेहो आमंत्रण पठाउल गेल छल, तखने हुनकर पीए कर्मभूमि एक्स. कए दरभंगा मे श्री आजाद द्वारा झंडी देखेबा विज्ञप्ति जारी केने छलाह। एहन मे इ कहब कतेक उचित जे न्योत ठीक स नहि देल गेल। तथापि सांसद महोदय क तामस सातम आसमान पर छल। ओ जकसन पर एलाह, मुदा नौटंकी एहन जे जनताक बीच जा ठार भ गेलाह। के के नहि गेल, मुदा किछु सुनबा बुझबा लेल तैयार नहि। स्थानीय विधायक, रेलवेक एक एक टा पदाधिकारी, भाजपा आ जदयू क एक एक टा नेता, ककरो गप नहि सुनलाह। संयोग रहल जे एतबा मे पटेलफारम पर लागल स्क्रिन पर नीतीश कुमार आबि गेलाह आ हुनका मनेबा मे लागल लोक मंच दिस विदा भ गेल। अपन उपेक्षा कए देख सांसद सेहो मंच दिस विदा भ गेलाह। मंच स भाषण सेहो देलाह, लंबा लंबा गप त नेता दैत रहल अछि, ओ सेहो द देलाह। मुदा जेतबा अपन महत्वक चिंता सांसद आजाद कए छैन ओकर पासन भरि चिंता अगर दरभंगा क विकास लेल ओ करताह त दरभंगा क जनता सेहो हुनकर इज्जतक लेल जान देबा स पाछु नहि रहत, मुदा इ नौटंकी हुनकर आब बेसी दिन नहि चली सकैत अछि। एहि स पहिने सेहो ओ अपना पर हमलाक धमकी क खबरि द अखबार मे नाम छपेबाक काज केने छलाह। एकटा खिलाडी कए वोट द दरभंगा आशा केने छल जे बिहार मे क्रिकेट आ दरभंगा मे एकटा स्टेडियम बनेबा लेल सांसद प्रयास करताह, मुदा ओ एकटा खिलाडी एक अपराधी घोषित करबा मे अपन योगदान देलथि। एखन धरि विधायक आ वार्ड पार्षद जेकां ओ मोहल्लाक सडक, सामुदायिक भवन आ छोट-मोट पुलक शिलान्यास आ उदघाटन कए अपन उपलब्धि बता एकट सांसदक दायित्वक इतिश्री बता दैत छथि। आजुक घटना कीर्ति झा आजाद क दरभंगा कए बेइज्जत करबाक एकटा आओर प्रयास जेकां अछि। आशा अछि ओ दरभंगाक विकास पर ध्यान देताह आ एहन काज करताह जाहि स दरभंगाक नाम एक बेर फेर गर्व स लेल जाए।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments