गाम क मौगी कए दिवाली क सनेस

LPG_Cylinder
नई दिल्ली। गाम क गृहणी कए केंद्र सरकार दीपावली क सनेस देलक अछि। पेट्रोलियम मंत्रालय ग्रामीण इलाका मे रसोई गैस कनेक्शन बढ़ेबाक उद्देश्य स बहुप्रतीक्षित राजीव गांधी ग्रामीण एलपीजी वितरक स्कीम लांच करि देलक अछि। स्कीम क पहिल चरण मे आठ राज्य मे 1200 एजेंसी खोलल जा रहल अछि। एहि मे सबस बेसी उत्तर प्रदेश मे 290 जखन कि 251 एजेंसी क संग बिहार दोसर स्थान पर अछि।
स्कीम लांच करैत पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा कहला जे एक वितरक एजेंसी महीने मे 600 सिलेंडर क रीफिलिंग क सकत। बाद मे एकर क्षमता कए बढ़ाकए 1500 सिलेंडर तक कैल जा सकैत अछि। एजेंसी जहि व्यक्ति क नाम पर खोलल जाइत ओकर चयन क लेल काफी पारदर्शी तरीका अपनाउल जाइगा। एकरा लेल सबहक सामने लाटरी क व्यवस्था अपनाउल जा रहल अछि। एजेंसी जहि गाम मे होयत, ओतहि कए लोक कए एकर वितरक नियुक्त कैल जाइत। एजेंसी पति-पत्नी क नाम पर देल जाइत।
ग्रामीण कए एहि एजेंसी स गैस सिलेंडर प्राप्त करबा लेल स्वयं एजेंसी क गोदाम तक जाइ पड़त। घर-घर सिलेंडर डिलीवरी करबाक झंझट एहि लेल नहि राखल गेल अछि जे एहि स वितरक क लागत बढि़ जाइत। वितरक कए केवल दू व्यक्ति कए बतौर कर्मचारी रखबाक मंजूरी देल गेल अछि। एक चौथाई एजेंसी एससी आ एसटी क लेल, जबकि इतबे रक्षा श्रेणी या शारीरिक तौर पर अक्षम व्यक्ति या खेल कूद मे विशेष उपलब्धि वाला व्यक्ति क लेल आरक्षित रखल गेल अछि।

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments