आब बारी-झाडी क होएत जीपीएस मैपिंग

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बागवानी संबंधी विभिन्न प्रकार क सरकारी योजना क फायदा पात्र लोक तक पहुंचेबा लेल कृषि विभाग क अधिकारी स बारी-झाडी कए जीपीएस (ग्लोबल पोजिशनिंग) मैपिंग करेबा लेल कहलथि अछि। मुख्यमंत्री राज्य सरकार क बगीचा बचाओ कार्यक्रम क शुरुआत करैत कहला, ‘कृषि विभाग दिस स कई प्रकार क मदद देल जाइत अछि। बारी-झाडी क उत्थान लेल दे जाइ वाला बागवानी प्रोत्साहन राशि क दुरुपयोग कए रोकबा लेल कृषि विभाग कए एकर सबहक जीपीएस मैपिंग करबाक चाही ।’ ओ कहला जे जीपीएस मैपिंग क मदद स सही लाभान्वित तक मदद पहुंच सकत। जीपीएस मैपिंग स बारी-झाडी पर नजर रखल जा सकत आओर प्रोत्साहन राशि क उपयोग क बारे मे सेहो निगरानी संभव होएत। मुख्यमंत्री कहला जे बारी-झाडी क माध्यम स बागवानी मे लागल किसान क आय मे बढ़ोतरी आओर नियमित आय प्रदान करि हुनकर स्थिति सुधारबा लेल राज्य सरकार कटिबद्ध अछि। सरकार गुणवत्तापूर्ण पौध क वितरण आओर रोपाई लेल प्रति एकड़ 1000 टका क प्रोत्साहन राशि देबाक संगहि कईटा आकर्षक योजना तैयार केलक अछि। ओ कहला जे राज्य मे दू लाख हेक्टेयर क्षेत्र बारी-झाडी आ तरकारी क खेती क योग्य अछि। नीति निर्माता, वैज्ञानिक आ कृषि पदाधिकारी कए समन्वित प्रयास करैत काज करबाक चाही ताकि हर भारतीय क थारी मे बिहार क एकटा तरकारी हेबाक हमर सपना पूरा कैल जा सकए।

maithili news, mithila news, bihar news, latest bihar news, latest mithila news, latest maithili news, maithili newspaper

नीक वा अधलाह - ज़रूर कहू जे मोन होय

comments